बच्चों के निजता उल्लंघन मामले में यूट्यूब पर 1,400 करोड़ रुपये का जुर्माना

0
146

 

नई दिल्ली: निजता उल्लंघन के मामले में फेसबुक के बाद अब गूगल पर भारी-भरकम जुर्माना लगाया गया है। बच्चों की निजी सूचनाओं को अवैध रूप से इकट्ठा करने के आरोप में गूगल की सहायक कंपनी यूट्यूब पर 20 करोड़ डॉलर (लगभग 1,400 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया गया है। इस मामले का अमेरिका में बच्चों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले अन्य लोकप्रिय इंटरनेट प्लेटफॉर्म पर उल्लेखनीय असर पड़ सकता है।बच्चों के निजता उल्लंघन पर सबसे बड़ा जुर्माना
बच्चों के निजता उल्लंघन के मामले में अमेरिका के उपभोक्ता सुरक्षा नियामक फेडरल ट्रेड कमिशन द्वारा लगाया गया यह अब तक का सबसे बड़ा जुर्माना होगा। पॉलिटिको फर्स्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, जुर्माने की रकम को अमेरिकी जस्टिस डिपार्टमेंट की मंजूरी मिलनी अभी बाकी है। इससे पहले, बच्चों के निजता के उल्लंघन के ही मामले में सोशल विडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक पर 57 लाख डॉलर (लगभग 40 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया था।

पिछले महीने एफटीसी ने उपयोगकर्ताओं के निजी डेटा के गलत इस्तेमाल के लिए फेसबुक पर 5 अरब डॉलर ( 3500 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया था। अमेरिकी नागरिकों के सोशल मीडिया डेटा, जेनेटिक डेटा, फेशियल रिकॉग्निशन डेटा तथा अन्य निजी डेटा की सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए कांग्रेस के सदस्यों ने इस साल कम से कम एक दर्जन निजी एवं पारदर्शिता विधेयक लाए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here