क्या है ब्रेन ट्यूरमर के लक्षण

0
16

 

ब्रेन ट्यूरमर की शुरुआत होने पर पीड़ित व्यक्ति में कुछ लक्षण नजर आते हैं। कई बार यह दिक्कत हो जाने के बाद किस तरह के बदलाव रोगी में नजर आते हैं और किस तरह इस बीमारी की पहचान इसके घातक रूप तक बढ़ने से पहले ही की जा सकती है, इस बारे जानकारी होना जरूरी है। कई मरीजों में ब्रेन ट्यूमर के लक्षण बहुत पहले से नजर आने लगते हैं जबकि कुछ केसेज में ऐसे लक्षण किसी दूसरी बीमारी के कारण भी हो सकते हैं।

ब्रेन ट्यूमर के लक्षण सामान्य या विशेष हो सकते हैं। इनमें से एक लक्षण मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी पर दबाव महसूस होने के रूप में भी सामने आता है। इसके साथ ही दिमाग का एक हिस्सा ब्रेन ट्यूमर के कारण ठीक से काम करना बंद कर देता है। कुछ केसेज में ब्रेन ट्यूमर की समस्या से ग्रस्त मरीजों को सिर में तेज दर्द या दूसरी परेशानियों का अनुभव होता है और डायग्नॉज करते वक्त सामने आता है कि उनके दिमाग का एक हिस्सा काम नहीं कर रहा है। इसका कारण ब्रेन ट्यमर ही होता है।

 

तेज सिर दर्द: यह दर्द अक्सर किसी काम पर ध्यान केंद्रित करते समय या सुबह सोकर उठने के वक्त होता है। यह असहनीय स्थिति में होता है।

दौरे के रूप में: कई लोगों का खुद पर नियंत्रण नहीं रहता है और उनकी नसों में तेज दर्द और ऐठन होती है। साथ ही कुछ लोगों को दौरे भी पड़ सकते हैं।

बेहोशी: अक्सर बेहोश हो जाना या अपने शरीर के अंगों और दिमाग पर नियंत्रण खो देना। जैसे ब्लेडर पर नियंत्रण ना रह पाना।

त्वचा का रंग बदलना: कुछ सेकेंड्स के लिए लगभग 30 सेकेंड्स के लिए सांस ना आना और इस दौरान त्वचा का रंग ग्रे, ब्लू, पर्पल, वाइट और ग्रीन शेड्स में बदलना।

व्यक्तित्व और यादाश्त पर असर: इस दौरान पीड़ित व्यक्ति की यादाश्त कुछ कमजोर हो सकती है। ब्रेन ट्यूमर के लक्षणों में हर समय थकान महसूस होना, वॉमिट जैसा फील होना, उबासी आते रहना, नींद से जुड़ी समस्याएं होना साथ ही रोजमर्रा के कामों में दिक्कत महसूस होना। शामिल है।

बोलने, सुनने और यादाश्त में दिक्कत होना। भावनात्मक रूप से परेशान रहना। ऊपर की तरफ देखने में परेशानी होना, चेहरे पर सुन्नता का महसूस होना, शरीर के कुछ अंगों में बदलाव होना, देखने की क्षमता प्रभावित होना, खाते समय कुछ निगलने में दिक्कत होना आदि शामिल होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here