हजारों लोगों ने दी पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल के भाई को श्रद्धांजलि

0
148

फरीदाबाद | हरियाणा के पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल के बड़े भाई स्वर्गीय विनोद गोयल की रस्म पगड़ी और श्रद्धांजलि सभा में हजारों लोगों ने स्व. विनोद गोयल को श्रद्धांजलि दी और पीडि़त परिवार को इस असीम दुख को सहने की शक्ति प्रदान करने की परमपिता परमात्मा से प्रार्थना की। कोरोना के बीच आयोजित इस श्रद्धांजलि सभा में मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए लोगों ने स्व. विनोद गोयल को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस मौके पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने आए लोगों ने कहा कि विनोद गोयल सौम्य एवं सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। उनके जाने से समस्त परिवार जहां शोक संतृप्त है, वहीं उनके चाहने वाले एवं जानकार लोगों को भी भारी ठेस पहुंची है। भगवान से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की और परिजनो को दुख की घड़ी में ढांढस बंधाया। इस मौके पर राज्यसभा सांसद अनिल जैन सपत्नी पीडि़त परिवार को ढांढस बंधाने पहुंचे जबकि विधायक नयनपाल रावत, राजेश नागर, नरेंद्र गुप्ता, पूर्व सांसद अवतार भड़ाना सहित शहर के औद्योगिक, सामाजिक व धार्मिंक संगठनों के प्रतिनिधियों सहित बड़ी संख्या में लोगों ने स्व. विनोद गोयल को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। प्रमुख समाजसेवी व पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल के बड़े भाई विनोद गोयल की श्रद्धांजलि सभा रविवार को उनके निवास स्थान सैक्टर-17 में आयोजित की गई कोरोना को ध्यान में रखते हुए श्रद्धांजलि सभा का समय दो घंटे दोपहर 2 बजे से 4 बजे तक रखा गया ताकि एक ही समय पर ज्यादा लोग इकठ्ठे न हो पाएं श्रद्धांजलि सभा के दौरान न केवल सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया बल्कि सभी के लिए मास्क, सेनिटाइज़र की व्यवस्था भी की गई। कोरोना को ध्यान में रखते हुए श्रद्धांजलि सभा को बड़े स्तर पर आयोजित न कर घर पर ही रखा गया । गौरतलब है कि विनोद गोयल समाचार पत्रों के कई दशकों पुराने वितरक थे और अपने मृदुभाषी व्यवहार के लिए पहचाने जाते थे। उनका 30 नवम्बर को आकस्मिक निधन हो गया जिससे पूरे शहर में शोक की लहर है। कैप्शन : पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल के बड़े भाई विनोद गोयल की श्रद्धांजलि सभा में उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे राज्यसभा सांसद अनिल जैन साथ में विधायक नयनपाल रावत, नरेंद्र गुप्ता, राजेश नागर व अन्य गणमान्यजन। ए: स्व. विनोद गोयल को श्रद्धांजलि देते लोग तथा शोक संतृप्त परिवार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here