हॉन्ग कॉन्ग में प्रतिबंध के बाद भी सड़कों पर उतरे हजारों समर्थक

0
296

 

हॉन्ग कॉन्ग: हॉन्ग कॉन्ग में लोकतंत्र समर्थक हजारों लोगों ने पुलिस प्रतिबंध के बावजूद शनिवार को रैली निकाली। तीन महीने से जारी राजनीतिक गतिरोध के बीच पिछले सप्ताहांत सबसे अधिक हिंसक झड़पें हुई थीं। इसके बाद पुलिस ने सुरक्षा कारणों से प्रदर्शनों पर रोक लगाते हुए लोगों को गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी थी। चेतावनी के बाजवूद बड़ी संख्या में लोग काले रंग की टी शर्ट पहनकर सड़कों पर उतरे और यातायात बाधित कर दिया।

पुलिस ने चीन सरकार का प्रतिनिधित्व करने वाले विभाग- संपर्क कार्यालय के आसपास नए सिरे से घेरेबंदी की है। संभावित झड़पों की आशंका के मद्देनजर पानी की बौछार करने वाले वाहन तैनात किए गए हैं। चेतावनी के बावजूद बड़ी संख्या में लोग काले रंग की टी शर्ट पहनकर शनिवार की दोपहर कई सड़कों से मार्च करते हुए सिटी सेंटर के खेल मैदान में एकत्र हुए और विरोध दर्ज कराया।

हॉन्ग कॉन्ग में कम से कम पांच प्रमुख लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया था ताकि रैली को विफल किया जा सके। यह कदम ऐसे समय पर उठाया गया था जब पुलिस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए एक नागरिक अधिकार समूह को शनिवार को होने वाली जन रैली करने की अनुमति नहीं दी थी।

पुलिस ने लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं जोशुआ वांग और एगनेस चाउ को अन्य लोगों को अनधिकृत रूप से एकत्र होने के लिए उकसाने समेत कई आरोपों गिरफ्तार कर लिया था। गौरतलब है कि प्रदर्शनों के सिलसिले में जून से 900 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। स्थिरता और समृद्धि के लिए पहचान बनाने वाले हांगकांग की छवि को हिंसा के कारण क्षति पहुंची है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here