श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय दूधौला में प्रथम वार्षिक स्थापना दिवस का किया जाएगा आयोजन

0
286

पलवल 18 नवंबर। श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय दूधौला में दोहरी शिक्षा कार्य प्रणाली को जोडा गया है, जिससे युवा शिक्षा के साथ-साथ हुनरमंद बनेगा तथा कमाई का जरिया भी प्राप्त करेगा। यह वक्तव्य सोमवार को स्थानीय लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय दूधौला के कुलपति राज नेहरू ने जिला के समस्त प्रैस संवाददाताओं को अवगत कराते हुए व्यक्त किए।
कुलपति राज नेहरू ने बताया कि 19 नवंबर 2019 (मंगलवार) के सांय 5 बजे श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय दूधौला के प्रांगण में प्रथम वार्षिक स्थापना दिवस का आयोजन किया जाएगा, जिसमें केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्योग मंत्री भारत सरकार डा. महेंद्रनाथ पांडे मुख्य अतिथि तथा विशिष्ठï अतिथि के रूप में राज्यसभा सदस्य डा. रघुनाथ महापात्रा और हरियाणा के परिवहन, खनन एवं भूविज्ञान कला व सांस्कृतिक एवं कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण मंत्री मूलचंद शर्मा शिरकत करेंगे। हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह विशेष आमंत्रित के तौर पर कार्यक्रम में शामिल रहेंगे। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय ने युवाओं को और बेहतर हुनरमंद बनाने के लिए भविष्य में 70 कोर्स शुरू करने का लक्ष्य रखा है। विश्वविद्यालय ने लगभग 70 औद्योगिक ईकाइयों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए है, युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के दृष्टिïगत आगामी समय में लगभग 500 कंपनियों को अपने साथ जोडऩे का लक्ष्य रखा है। नेहरू ने बताया कि लुप्त होती जा रही हरियाणा की प्राचीन लोकगीत कला व नृत्य को जीवंत रखने के लिए विश्वविद्यालय में बंचारी गांव के प्राचीनतम लगभग 800 लोक गीतों का संग्रह कर बंचारी फोक डांस के नाम से एक कोर्स शुरू किया है। इस अनूठे कोर्स में गांव बंचारी के प्राचीन कवियों व लोक कलाकारों द्वारा युवाओं को संगीत व लोकगीत कला से प्रशिक्षत किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय में आगामी जुलाई सत्र से स्कूल से आठवीं कक्षा पास करने के उपरांत नौवीं कक्षा में विश्वविद्यालय में विद्यार्थी के हुनर को देखते हुए दाखिला दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जो विद्यार्थी जिस कला में निपुण होगा उस विद्यार्थी को उसके हुनर के अनुरूप इनोवेशन स्कूल में शिक्षा दी जाएगी।इस अवसर पर श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय की रजिस्ट्रार ऋतु बजाज, डीन डा. आर.एस. राठौर, निर्माण विभाग की शीमी सोमा सुंदरम, परीक्षा नियंत्रक चंचल भारद्वाज, पी.आर.ओ. डा. जयपाल मेहरा, नेटवर्क एडमीनिसट्रेटर नीरज पाराशर, वैबसाइट एडमीनिसट्रेटर प्रवीण कुमार, आई.टी. विभाग से गणेशदत्त सहित विश्वविद्यालय की टीम व जिला के प्रैस संवाददाता व छायांकार उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here