तायल ग्रुप की 483 करोड़ की संपत्ति कुर्क

0
326

 

नई दिल्ली : करोड़ों रुपये की कथित बैंक धोखाधड़ी मामले में कोलकाता के एक समूह की 483 करोड़ रुपये की संपत्ति प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कुर्क की है। एजेंसी ने मंगलवार को एक बयान में बताया कि उसने ‘बैंक धोखाधड़ी के मामले में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (पीएमएलए) के तहत केएसएल ऐंड इंडस्ट्रीज लिमिटेड का 483 करोड़ रुपये का 2,70,374 वर्गफुट का प्लॉट और नागपुर में शॉपिंग मॉल की अंतरिम रूप से कुर्की की है।

‘तायल समूह के खिलाफ यह दूसरा पीएमएलए मामला है। यूको बैंक के साथ कथित रूप से धोखाधड़ी को लेकर पहले से ही ईडी उसकी जांच कर रहा था। 2016 में भी उसकी 234 करोड़ रुपये की संपत्तियां कुर्क की जा चुकी हैं। ईडी यूको बैंक मामले में कोलकाता में स्पेशल पीएमएलए कोर्ट में आरोप-पत्र भी दायर कर चुका है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘एजेंसी इन कुर्कियों के मार्फत कर्ज धोखाधड़ी की करीब-करीब पूरी रकम वसूलने में कामयाब रही है और उसे अब न्यायिक कसौटी पर कसा जाएगा। दूसरे मामले में बैंक अधिकारियों की भूमिका भी जांच के दायरे में है।’ ईडी ने सीबीआई की एफआईआर के आधार पर कोलकाता के इस समूह के खिलाफ मामला अपने हाथ में लिया था। ईडी ने पहले कहा था, ‘जांच में पता चला कि प्रमोटर प्रवीण कुमार तायल का तायल ग्रुप ऑफ कंपनीज देश में कई बैंकों के साथ बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी करने में शामिल था।’ उसने कहा था, ‘खास मकसद के लिए तायल ग्रुप ऑफ कंपनीज द्वारा ली गई रकम की फर्जी कंपनियों के मार्फत हेराफेरी की गई और फिर उसे अज्ञात गंतव्यों तक पहुंचा दिया गया।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here