लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंस के साथ औद्योगिक प्रतिष्ठान्नोंं की भी कदमताल

0
237

पलवल, 25 अप्रैल। कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचाव के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान पलवल जिला में 82 औद्योगिक व अन्य वाणिज्यिक इकाईयों को काम करने की अनुमति प्रदान की गई है। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के माध्यम से ऑनलाइन आवेदनों का निपटान करते हुए इस बात का भी ध्यान रखा गया कि कार्यस्थल पर सोशल डिस्टेंस का पालन हो और निरंतर सेनेटाइज संबंधी गतिविधियां भी जारी रहें। स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टिï से जहां एक ओर हर आमजन पर प्रशासन की पारखी नजर है वहीं लॉकडाउन में श्रमिकों को किसी भी प्रकार से रोजगार की चिंता न हो इसके लिए औद्योगिक इकाईयां अनुमति के आधार पर ही शुरू की जा रही हैं।
उपायुक्त नरेश नरवाल ने कहा कि सरकार की हिदायतों के अनुसार एमएसएमई श्रेणी की औद्योगिक इकाईयों व वाणिज्यक प्रतिष्ठान्नों को अनुमति दी जा रही है। औद्योगिक इकाईयों में आवश्यक वस्तुओं का उत्पादन करने सहित अन्य उत्पाद शुरू किए गए हैं और उनकी आपूर्ति के लिए ट्रांसपोटेशन सुविधा भी अनुमति आधार पर दी गई है। आर्थिक विकास की द्योतक औद्योगिक इकाई में कोविड-19 से बचाव के लिए जहां नियमित रूप से सैनेटाइजेशन प्रक्रिया अमल में लाई जा रही हैं वहीं मास्क का उपयोग करते हुए कर्मचारियों को परिसर में ही रखने की व्यवस्था इकाई प्रबंधक की ओर से की गई है। किसी भी रूप संक्रमण का फैलाव न हो इसके लिए एहतियात बेहतर तरीके से किए जा रहे हैं और कंपनियों में कार्यरत कर्मियों को परिसर में ही सोशल डिस्टेंस बनाए रखते हुए ठहराव करने सहित भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि आर्थिक व्यवस्था को समुचित नियंत्रण में रखने के लिए औद्योगिक इकाईयों का विकास में अहम योगदान है। वहीं कोरोना वायरस से बचाव के लिए इन संस्थानों में सोशल डिस्टेंस व अन्य आवश्यक कार्यों के लिए पहले ही निर्देश दिए जा चुके है। वहीं इन कार्यों की निगरानी के लिए अधिकारियों की भी ड्यूटी लगाई गई ताकि स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा उपायों का पूरी तरीके से पालन हो। वैश्विक महामारी के दौर में जहां आमजन की स्वास्थ्य सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है वहीं लोगों को आर्थिक रूप से नुकसान न हो इसके लिए प्रशासन की ओर से विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्र में स्थित औद्योगिक इकाईयों को खोलने की अनुमति दी है।पलवल जिला उद्योग केंद्र के उपनिदेशक अनिल कुमार ने प्रशासन की ओर से दी जा रही अनुमति की जानकारी देते हुए बताया कि अब तक कुल 82 प्रतिष्ठान्नों को खोलने की अनमुति दी है जिनमें करीब 6800 कर्मचारियों द्वारा शारीरिक दूरी बनाते हुए कार्य शुरू किया गया है। वहीं पलवल जिला में दो निर्माण साइट पर 355 श्रमिकों की अनुमति के साथ ही कंस्ट्रक्शन वर्क भी अधिकांश सरकारी कार्य विकासात्मक रूप के साथ शुरू किए हैं। इन निर्माण स्थलों पर श्रमिकों की बाहर मूवमेंट न हो इसके लिए इसी आधार पर अनुमति दी गई है कि कार्य स्थल पर ही श्रमिकों के रहने के लिए आवश्यक इंतजाम किए जाए। अनुमति प्राप्त इकाई में कार्यरत कर्मचारियों के ठहरने व भोजन की व्यवस्था परिसर में ही सुनिश्चित होगी तथा कोविड-19 नियमों की पालना सुनिश्चित रहेगी। वहीं औद्योगिक इकाईयों की शुरूआत किए जाने पर कार्यरत कर्मियों द्वारा सरकार द्वारा दी गई अनुमति पर आभार भी जताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here