सबिता ने स्पेशल ओलिंपिक वर्ल्ड गेम्स में जीते गोल्ड और सिल्वर

0
332

 

अबु धाबी : गोवा की सबिता यादव ने स्पेशल ओलिंपिक वर्ल्ड गेम्स में एकल टेबल टेनिस इवेंट में गोल्ड अपने नाम किया जबकि डबल्स में सिल्वर मेडल जीतकर 2 पदक देश को दिलाए। 17 साल की सबिता इतनी ज्यादा व्यस्त रहीं कि उन्हें यह खुशखबरी अपनी मां को सुनाने तक का वक्त नहीं मिल सका और अब वह घर लौटकर सरप्राइज देने की तैयारी में हैं। सबिता को बौद्धिक विकलांगता के साथ-साथ ठीक से बोलने में भी परेशानी होती है। उन्होंने कहा, ‘मेरे पिता का देहांत हो चुका है और मेरी मां दूसरों के घरों में झाडू-पौछा करने का काम करती हैं।’ आर्थिक तौर पर कमजोर परिवार से आने वालीं सबिता जुनूनी हैं और वह अपने घर के लिए भी कुछ करना चाहती हैं।

17 साल की सबिता ने एक स्पेशल स्कूल में दाखिला लिया जहां वोकेशनल ट्रेनिंग दी जाती है। वहां बच्चों को सिलाई और कुकिंग के अलावा भी काफी कुछ सिखाया जाता है लेकिन उनकी रुचि टेबल टेनिस में रही। उन्होंने 2015 में जाना कि वह बैडमिंटन से ज्यादा इस खेल में बेहतर कर सकती हैं।

टेबल टेनिस कोच शीतल नेगी ने कहा कि सबिता की मेहनत और लगन से उनका सपना पूरा हुआ। उन्होंने कहा, ‘मैं सबिता को 2 साल से जानती हूं और उनमें बड़ा आत्मविश्वास है। काफी कम लोगों को पता है कि स्पेशल ओलिंपिक ऐथलीट को भी जिला, राज्य, राष्ट्रीय स्तर को पार करने के बाद ही इंटरनैशनल लेवल पर खेलने का मौका मिलता है।’

भारत का अब तक स्पेशल ओलिंपिक वर्ल्ड गेम्स-2019 में बेहतरीन प्रदर्शन रहा है। भारत फिलहाल पदक तालिका में 163 मेडल के साथ टॉप पर है। उसके 44 गोल्ड, 52 सिल्वर और 67 ब्रॉन्ज हैं। चीन दूसरे नंबर पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here