रिलायंस जियो के पॉइंट ऑफ सेल मशीन से किराना सेक्टर में बढ़ेगी डिजिटल पेमेंट की जंग

0
317

रिलायंस जियो के पॉइंट ऑफ सेल (PoS) मशीन की लॉन्चिंग से पेमेंट कंपनियों के बीच किराना स्टोर्स को लेकर होड़ बढ़ने जा रही है, जोकि डिजिटल इकॉनमी का एक अहम युद्ध क्षेत्र है।पॉइंट ऑफ सेल मशीन या कार्ड स्वाइप टर्मिनल, रिलायंस जियो इन्फोकॉम का छोटे दुकानदारों के बीच इकोसिस्टम बनाने के प्लान का हिस्सा है।

पेटीएम, फोनपे और गूगल पे टर्मिनल्स के जरिए वेब सर्विसेज (पेमेंट्स, सप्लाई चेन और वर्किंग कैपिटल फाइनैंसिंग) बढ़ाने की कोशिश में हैं। नकदी आधारित किराना दुकानों का डिजिटल दुकानों में बदलाव डिजिटल पेमेंट कंपनियों के लिए केंद्रबिंदु बन गया है। QR कोड को छोटे व्यापारियों के लिए उपयुक्त समाधान माना जा रहा था, लेकिन इसने काम पूरा नहीं किया।

कंपनी के दो प्रॉडक्ट जिओ पॉइंट ऑफ सेल टर्मिनल और MyJio हैं, जिसे दुकानदारों को बांटा जा रहा है। ऊपर जिन सूत्रों का जिक्र किया गया है उनमें से एक ने कहा, ‘जियो के पास 30 करोड़ ग्राहकों का आधार है। MyJio ऐप के जरिए ऑफर्स और प्रमोशंस देकर वे ग्राहकों को इन दुकानों तक खींच सकते हैं, यही प्लान भी है।’

इसका लक्ष्य केवल उपभोक्ता ही नहीं, बल्कि सप्लाई साइड भी है। व्यापारियों को ग्राहकों तक सामान पहुंचाने से पहले होलसेल केंद्रों में ऑर्डर देना होता है और व्यापार को डिजिटाइज करने के लिए यहां बहुत बड़ा अवसर है। होलसेल इकाई रिलायंस मार्केट को इस उद्देश्य के लिए जोड़ा जाएगा और व्यापारी उसी टर्मिनल का इस्तेमाल करके ऑर्डर दे सकते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here