निजी अस्पताल के चिकित्सकों को किया जागरूक

0
5

 

पलवल। हरियाणा सरकार द्वारा 19 अक्टूबर तक प्रदेश में चलाए जा रहे (सघन ओरल हैल्थ जागरूकता अभियान) के तहत नागरिक अस्पताल पलवल में निजी अस्पतालों के चिकित्सकों को दंत व मुंह से संबन्धित बीमारियों के बारे में जागरूक किया गया।
वरिष्ठ दंत चिकित्सक डा. रामेश्वरी ने सभी निजी नर्सिंग होम के चिकित्सकों को बताया कि आप अपने नर्सिंग होम में आने वाले मरीजो को प्रसव पूर्व एवं प्रसव के बाद मुंह के स्वास्थ्य के बारे में जागरूक करे एवं कोई दांतो की बीमारी पाने पर तुरंत दंत चिकित्सक से संपर्क करे।
उन्होने वहां मौजूद चिकित्सकों को मुंह के कैंसर एवं तंबाकू से जुड़ी सभी बीमारियों के शुरूआती लक्षणों की जानकारी दी, जिससे वे अपने अस्पताल में प्राथमिक जांच के दौरान मुंह के कैंसर तथा अन्य बीमारियों की शुरूआत को जांच कर उनकी रोकथाम के लिए उन्हे नागरिक अस्पताल भेजे।
उन्होने बच्चो के मुंह के स्वास्थ्य एवं दूध के दांतो के बारे में भी जानकारी दी और दूध के दांतो की अहमियतता बताई। उन्होंने बताया कि दूध के दांत छ: माह से ढाई साल तक आते है। अगर दूध के दांत स्वस्थ होगे तो पक्के दांतो की स्वस्थ होने की सभांवनांए अधिक होगी। अगर दूध के दांत समय से पहले गिर जाते है (सडन से अपितु चोट लगने से ) तो न केवल दूसरे पक्के दांत देरी से आते है। अपितु टेढ़े मेढ़े आने की सभांवनाएं अधिक रहती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here