प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के वस्त्राल से प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का किया शुभारंभ

0
511

पलवल : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के वस्त्राल से मंगलवार को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभारंभ किया। इस योजना के तहत पंजीकरण करवाने वाले असंगठित कर्मकार को 60 वर्ष आयु पूरी होने के बाद तीन हजार रुपए मासिक पैंशन मिलेगी। प्रधानमंत्री के योजना के शुभारंभ कार्यक्रम का सीधा प्रसारण स्थानीय महात्मा गांधी सामुदायिक केंद्र एवं पंचायत भवन में असंगठित कर्मकारों को दिखाया गया, जिसमें हरियाणा श्रम कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष हरिप्रकाश गौतम मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित हुए।

गौतम ने इस अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री ने दूरगामी सोच के कारण ही असंगठित कर्मकारों के हित के लिए इतना बड़ा फैसला लिया है। इस योजना के तहत जो असंगठित कर्मकार पंजीकरण करवाएगा, उसे 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद 3 हजार रुपए मासिक पैंशन आजीवन मिलेगी। उन्होंने बताया कि योजना का लाभ लेने के लिए 18 वर्ष से 40 वर्ष की आयु तक के असंगठित कर्मकार को नजदीकी सीएससी (कॉमन सर्विस सेंटर) पर अपना पंजीकरण करवाना होगा तथा उम्मीदवार को उम्र के हिसाब से 55 रुपए से 200 रुपए तक का मासिक प्रीमियम देना होगा। इस योजना में जितना अंशदान उम्मीदवार द्वारा दिया जाएगा, उतना ही अंशदान केंद्र सरकार द्वारा भी दिया जाएगा। योजना का लाभ उन्हीं कर्मकारों को मिलेगा, जिनकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम है और कर्मकार ईएसआई, पीएफ, एनपीएस का लाभार्थी व आयकरदाता नहीं होना चाहिए।

उपायुक्त डा. मनीराम शर्मा ने बताया कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत जिला में अब तक करीब 14 हजार से अधिक असंगठित कर्मकारों के पंजीकरण हो चुके हैं। पंजीकरण करवाने के लिए कर्मकार को आधार कार्ड, बैंक खाता या जनधन योजना की पास बुक की फोटो प्रति तथा मोबाइल नंबर देना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ अधिक से अधिक असंगठित कर्मकारों को पहुंचाने के उद्देश्य से दो व तीन मार्च को अवकाश के दिनों में विशेष कैंप लगाए गए। उन्होंने असंगठित कर्मकारों का आह्वïान किया कि वे नजदीक के सीएससी पर जाकर अपना पंजीकरण करवाएं तथा आजीवन पैंशन योजना का लाभ उठाएं। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत करीब 150 प्रकार के व्यवसाय को शामिल किया गया है, जिसमें गृह आधारित कर्मकार, गली में फेरी लगाने वाला, कूड़ा बीनने वाला, धोबी, रिक्शा चालक, हथकरघा व चमड़ा कर्मकार, पान व छोटी दुकान वाले, कृषि कर्मकार, बोझा उठाने वाले, रेहड़ी वाला, भूमिहीन श्रमिक, सन्निर्माण कर्मकार, मध्याह्नï भोजन कर्मकार, दृश्य-श्रव्य कर्मकार, ईंट-भट्ïठा कर्मकार व दर्जी आदि शामिल हैं।

हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष मेहरचन्द गहलोत व भारतीय मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष गुलाब सिंह राणा ने कहा कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना असंगठित कामगारों के लिए एक लाभकारी पेंशन योजना है। सहायक श्रमायुक्त सतीश कुमार ने अतिथियों का बुक्के देकर स्वागत किया। श्रम निरीक्षक सुशील मान ने कार्यक्रम में आए अतिथियों एवं असंगठित कामगारों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने दीप प्रज्वलित करके किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत 17 लाभार्थियों को कार्ड वितरित किए गए।

इस अवसर अतिरिक्त उपायुक्त सुरेन्द्र सिंह, उपमण्डल अधिकारी (ना.) जितेन्द्र कुमार, सिविल सर्जन प्रदीप शर्मा, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी डी.पी. कुलश्रेष्ठï, जिला कल्याण अधिकारी जयपान सिंह हुड्डïा, जिला परिषद के उपाध्यक्ष संतराम बैसला, पलवल मार्किट कमेटी के चेयरमैन रणबीर सिंह मनोज, जिला भाजपा महामंत्री पवन अग्रवाल, भट्टïा एसोसिएशन के प्रधान योगेश कुमार, नोडल अधिकारी ई.एस.आई. निरीक्षक नरेन्द्र कुमार सहित असंगठित कामगार एवं गणमान्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here