पलवल की प्रतिभाएं प्रदेश स्तर पर जिले का नाम रोशन करेंगी-यशपाल

0
10

पलवल । महात्मा गांधी सामुदायिक केंद्र एवं पंचायत भवन पलवल में जिला बाल कल्याण परिषद द्वारा जोनल लेवल बाल महोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें हरियाणा बाल कल्याण परिषद के मानद महासचिव कृष्ण ढुल और उपायुक्त यशपाल ने बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। अतिथियों का स्वागत मंडलीय बाल कल्याण अधिकारी वह तीनों जिले के अधिकारियों ने पुष्पगुच्छे देकर किया ।कार्यक्रम मंच संचालन जसबीर ने किया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे मानद महासचिव कृष्ण ढुल और जिला उपायुक्त यशपाल ने दीप प्रज्वलित करके किया। जिला बाल कल्याण परिषद के मानद महासचिव कृष्ण ढुल ने कार्यक्रम में मौजूद बच्चों को संबोधित करते हुए कहा की सभी बच्चों को ऐसी प्रतियोगिताओं में बढ़चढ़ कर भाग लेना चाहिए। उन्होंने कहा की बाल कल्याण परिषद हरियाणा काफी समय से शहर और ग्रामीण क्षेत्र में छिपी हुई प्रतिभाओं को मंच देने के लिए प्रयासरत है। हरियाणा बाल कल्याण परिषद की यही कोशिश है कि प्रदेश के कोने-कोने में जो प्रतिभाएं है उसको निखार कर समाज के सामने लाया जाए, जिसके अब सार्थक परिणाम सामने आ रहे है और बाल कल्याण परिषद द्वारा निखारे गए बच्चे देश और प्रदेश में अपनी प्रतिभा के दम पर अपने क्षेत्र और समाज का नाम रोशन कर रहे है। उन्होंने कहा की जल्द ही राज्य स्तरीय बाल महोत्सव का आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को बाल कल्याण परिषद के प्रधान और हरियाणा के महामहिम राज्यपाल  सत्यदेव आर्य और प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा सम्मानित किया जाएगा। कृष्ण ढुल ने मंडल स्तरीय बाल महोत्सव प्रतियोगिताओं के सफल आयोजन के लिए जिला बाल कल्याण परिषद पलवल को बधाई देते हुए कहा की जिला बाल कल्याण परिषद की बच्चों के हुनर को निखारने की यह कोशिश बेहद सराहनीय है।
उपायुक्त यशपाल ने समारोह में उपस्थित स्कूली बच्चों और अन्य लोगों को संबोधित करते हुए आयोजकों को कार्यक्रम के सफल आयोजन की बधाई देते हुए कहा कि अन्य जिलों के जो प्रतियोगी यहां हिस्सा लेने आए है, उनसे जिला पलवल के बच्चों को कुछ नया सीखने को मिलेगा। उन्होंने कहा की बच्चे देश का भविष्य होते है। इस तरह की प्रतियोगिताओं में हारना व जीतना कोई महत्वता नहीं होता क्योंकि जो बच्चे पहले दूसरे और तीसरे स्थान पर नहीं आ पाते वे जीतने वालों से प्रेरणा लेकर जाते है तथा भविष्य में और अधिक मेहनत करते है। बाल कल्याण परिषद की इस तरह की प्रतियोगिताओं के आयोजन से देश को सजग नागरिक मिलेंगे। जिला बाल कल्याण अधिकारी सुरेखा डागर ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा की इन जोनल लेवल प्रतियोगिताओं में पलवल, फरीदाबाद और नूंह जिलों के स्कूली बच्चों ने भाग लिया है, जिसमे स्कूली बच्चों ने विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए है। उन्होंने बताया कि ये जोनल लेवल प्रतियोगिताएं 18 नवंबर से शुरू हुई थी, जिसमे हजारों छात्र छात्रों ने अपने हुनर को दिखाया। उन्होंने बताया की जिला बाल कल्याण परिषद पलवल द्वारा ऐसी प्रतियोगिताएं समय-समय पर आयोजित की जाती रहती है ताकि बच्चों में छिपी हुई प्रतिभाओं को आगे तक ले जाया जा सके। जिला बाल कल्याण अधिकारी ने कार्यक्रम में पधारे अतिथियों को पुष्प गुच्छ देकर मुख्यातिथियों का स्वागत व्यक्त किया।
इस अवसर पर मंडलीय बाल कल्याण अधिकारी कुष्वेंद्र यादव व जिला बाल कल्याण अधिकारी नूंह कमलेश शास्त्री, बाल कल्याण अधिकारी फरीदाबाद सुन्दर लाल खत्री, बाल कल्याण परिषद के आजीवन सदस्य भगत सिंह तेवतिया, संतोषशर्मा, जगमोहन रावत शिव कुमार गुप्ता डॉक्टर ओमवीर शर्मा , कुसुम इत्यादि आजीवन सदस्य व जिला बाल कल्याण परिषद से रामेश्वर रावत, मनोज कुमार, सुरजीत सिंह, मोहन सिंह, आशा, पूनम, नीलम रानी, मिनाक्षी सहित विभिन्न स्कूलों के प्रधानाचार्य एवं गणमान्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here