पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से मदद नहीं मांगेगा

0
312

इस्लामाबाद : पाकिस्तान अब अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से मदद नहीं मांगेगा बल्कि यह अन्य विकल्पों को तलाशने पर जोर देगा। वित्त मंत्री असद उमर ने कराची चैम्बर ऑफ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्री में व्यवसायियों के साथ बैठक में कहा कि इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार ने आईएमएफ से बेलआउट पैकेज न मांगने और दूसरे विकल्पों को तलाशने का फैसला किया है ताकि देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जा सके।

पाकिस्तान में प्रतिकूल भुगतान संतुलन का गंभीर संकट पैदा हो गया है और इससे उबरने के लिए आईएमएफ से 8 अरब डॉलर के बेलआउट पैकेज को लेकर बातचीत चल रही थी।हालांकि, इमरान खान सरकार सऊदी अरब, चीन और संयुक्त अरब अमीरात सहित अपने मित्र देशों से भी आर्थिक मदद के लिए संपर्क कर रही है।

उधर, मंत्री उमर ने कहा कि आईएमएफ से नया पैकेज मांगने की जगह नए विकल्प तलाशे जा रहे हैं। उनका कहना है कि आईएमएफ से फंड लेने पर आर्थिक हालात कठिन हो सकते हैं। बता दें कि इसी महीने यूएई और पाकिस्तान ने 6.2 अरब डॉलर के सहायता पैकेज देने संबंधी शर्तों को अंतिम रूप दिया है। वहीं, इमरान के सऊदी दौरे पर इस तेल संपन्न देश पाकिस्तान को इसकी आर्थिक स्थिति से निपटने के लिए 6 अरब डॉलर की मदद देने पर सहमत हुआ था। इन देशों के अलावा चीन ने भी आर्थिक मदद का वादा किया था। हालांकि, अभी इसने यह घोषणा नहीं की है कि वह कितनी मदद देगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here