पश्चिमी-पूर्वी सीमाओं पर चुनौतीपूर्ण हालात का सामना कर रहा है पाक:शाह महमूद कुरैशी

0
372

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि उनका मुल्क अफगानिस्तान से लगती पश्चिमी सीमा और भारत से लगती पूर्वी सरहद पर चुनौतीपूर्ण हालात का सामना कर रहा है। राजधानी इस्लामाबाद में ‘बिजनेस लीडर्स समिट’ में कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी (पीटीआई) सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता नकदी की कमी से जूझती देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना है।

कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान अपनी पश्चिमी और पूर्वी सरहदों पर चुनौतीपूर्ण हालात का सामना कर रहा है। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमलावरों द्वारा 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर किए हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े हालिया तनाव के संदर्भ में विदेश मंत्री ने कहा, ‘हम अफगानिस्तान से लगती पश्चिमी सरहद पर चुनौतीपूर्ण हालात का सामना कर रहे हैं। साथ में, पूर्वी सीमा पर खराब हालात हैं। पुलवामा के बाद पिछले कुछ दिनों में जो कुछ हुआ है वह आपने देखा है।’

 

गौरतलब है कि भारत और अफगानिस्तान, दोनों ही आतंकवाद पर लगाम नहीं कसने और पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठनों को सीमापार हमले करने की इजाजत देने के लिए इस्लामाबाद पर आरोप लगाते हैं। भारत के साथ रिश्तों पर कुरैशी ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने ओहदा संभालने के बाद, नई दिल्ली की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाया था।

खबर में विदेश मंत्री के हवाले से कहा गया , ‘प्रधानमंत्री इमरान ने दोहराया है कि अगर नई दिल्ली एक कदम उठाती है तो इस्लामाबाद दो कदम उठाएगा। पाकिस्तान, भारत के साथ बातचीत के जरिए मुद्दों को हल करना चाहता है।’ कुरैशी ने कहा कि सत्ताधारी पीटीआई की अर्थव्यवस्था टीम ने सरकार के पहले छह महीने के दौरान देश की अर्थव्यवस्था को उठाने के लिए कई कदम उठाए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि हम ईरान, चीन और क्षेत्र के अन्य मुल्कों के साथ द्विपक्षीय कारोबार को बढ़ा रहे हैं। कुरैशी ने कहा कि चीन हमारा रणनीतिक साझेदार है और हम इस रिश्ते को आर्थिक साझेदारी में बदलना चाहते हैं। हम चीन से कृषि क्षेत्र में पाकिस्तान की मदद करने के लिए बातचीत कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here