हमारी प्रतिस्पर्धा विपक्षी दलों से नहीं, स्वयं से : कृष्णपाल गुर्जर

0
319

 

फरीदाबाद। फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले फरीदाबाद जिले की 6 विधानसभा क्षेत्रों में लोकसभा चुनाव की दृष्टि से जिन कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी लगाई है उनकी बैठक का आयोजन मिलन वाटिका में किया गया जिसकी अध्यक्षता भाजपा के जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने की। बैठक में लोकसभा प्रभारी गोविंद भारद्वाज, संयोजक नीरा तोमर, सह संयोजक अनिल नागर, लोकसभा विस्तारक राष्ट्र दहिया, प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, जिला प्रभारी गार्गी कक्कड़, विधायका सीमा त्रिखा, विधायक पंडित मूलचंद शर्मा, विधायक नरेन्द्र भड़ाना, मेयर सुमन बाला, राजेन्द्र बीसला, जिला महामंत्री देवेन्द्र चौधरी, सोहनपाल सिंह, मीडिया संयोजक लोकसभा अनिल प्रताप सिंह, सह संयोजक अमित अहूजा, चेयरमैन अजय गौड, धनेश अदलक्खा, सुरेन्द्र तेवतिया, ओमप्रकाश रक्षवाल, अमित मिश्रा, पार्षद अजय बैसला, बीर सिंह नैन, मनोज नासवा, सुभाष आहूजा, महिला मोर्चा अध्यक्ष मीना पाण्डेय, किसान मोर्चा अध्यक्ष सुखबीर मलेरना, युवा मोर्चा अध्यक्ष जितेन्द्र चौधरी, ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष हरिन्दर भड़ाना, एससी मोर्चा अध्यक्ष लक्ष्मण तंवर, जिला उपाध्यक्ष वजीर सिंह डागर, मान सिंह, भगवान सिंह, संजीव भाटी, पार्टी के जिला पदाधिकारी, सभी मण्डल अध्यक्ष व महामंत्री, मोर्चों के अध्यक्ष व महामंत्री, प्रकोष्ठों के संयोजक, शक्ति केन्द्र प्रमुख, पालक एवं सभी कार्यकारिणी सदस्य एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे। इस अवसर पर फरीदाबाद लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी एवं केंद्र में मंत्री कृष्णपाल गुर्जर मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित रहे।
सभा को संबोधित करते हुए लोकसभा प्रत्याशी  गुर्जर ने कहा कि हमारी प्रतिस्पर्धा हमारे विपक्षी दलों की बजाए स्वयं से है। उन्होंने कहा कि आज शहर में ही नहीं गांव देहात में भी भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के द्वारा कराए गए विकास कार्यों की वजह से सभी मतदाताओं ने पहले ही मन बनाया हुआ है कि हमें भाजपा को वोट देना है, हमें नरेन्द्र मोदी को वोट देना है। इसलिए हमारी प्रतिस्पर्धा विपक्षी दलों से न होकर स्वयं से है। कृष्णपाल जी ने कहा कि यह चुनाव मेरा नहीं बल्कि उन भाजपा कार्यकर्ताओं का है जो बूथों पर चौकीदार बनकर नरेन्द्र मोदी जी को पुन: प्रधानमंत्री बनाने के लिए अपने-अपने क्षेत्र में प्रयासरत हैं।गुर्जर ने कहा कि यह चुनाव राष्ट्र की अस्मिता का चुनाव है। जहां माननीय नरेन्द्र मोदी जी ने देश के सैन्य बलों को देशविरोधी ताकतों के खिलाफ कार्रवाई करने की छूट सैन्य बलों को दे रखी है वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में राष्ट्रदोह के कानून को समाप्त करने, सेना के अधिकार कम करने और धारा ३७० को स्थाई रखने का वादा किया है। बैठक में चुनाव को लेकर विस्तार से चर्चा करते हुए सभी मंचासीन वक्तों ने कार्यकर्ताओं से चुनाव में बढ़-चढ़कर काम करने की अपील की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here