टी.बी., फैमिली प्लानिंग, एचआईवी व एंटी तंबाकू के विषय में जिला स्तरीय बैठक का किया गया आयोजन ।

0
110

पलवल । उपायुक्त यशपाल की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग द्वारा को टी.बी., फैमिली प्लानिंग, एचआईवी व एंटी तंबाकू के विषय में जिला स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया। उपायुक्त ने अपने संबोधन में लोगों को संदेश दिया कि विभाग द्वारा दी जा रही परिवार नियोजन की सुविधाओं का लाभ उठाएं तथा देश की जनसंख्या को स्थिर करने में सहयोग करें। इसके अलावा एक क्वालिटी एश्योरेंश समिति की बैठक का आयोजन भी किया गया, जिसमें उपायुक्त ने जिला स्तर पर फैमिली प्लानिंग सुविधाओं को पूर्णतय समय पर लाभार्थियों को देने के निर्देश भी दिए गए।
बैठक में सिविल सर्जन डॉ. प्रदीप शर्मा, डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. रेखा सिंह, डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. सुनीता सिंह व स्टेट से आए असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ. संतोष भी मुख्य रूप से मौजूद रहीं।
सिविल सर्जन डॉ. प्रदीप शर्मा ने टी.बी. जैसी खतरनाक बिमारी, जिसे 2025 तक देश से जड़ से समाप्त करने का लक्ष्य रखा गया है के बारे में लोगों को जागरूक किया। उन्होंने बताया की कोई भी व्यक्ति जिसे 2 हफ्ते से ज्यादा खांसी व बुखार हो वह तुरंत अपने नजदीकी सरकारी अस्पताल में जाकर टी.बी. की जांच मुफ्त करवा सकता है। डॉ. प्रदीप शर्मा ने बताया की सरकार द्वारा प्रत्येक टी.बी. के मरीज को 500 रूपए प्रतिमाह का भत्ता भी दिया जाता है तथा टी.बी. के मरीज की सूचना देने वाले को भी सरकार द्वारा 500 रुपये की प्रोत्साहन राशि सरकार द्वारा प्रदान की जाती है।
इस मौके पर विभिन्न विषयों के बारे में लोगों को जागरूक किया गया जैसे कि एचआईवी एड्स के साथ जीवन जी रहे लोगों को सामाजिक व सामुदायिक तौर पर लोगों को जागरूक किया गया। सहायक निदेशक डॉ. संतोष द्वारा भी सभी विभागों से आए अधिकारियों को इस बिमारी से पीडि़त लोगों को सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं को प्राथमिक के तौर पर बिना किसी भेदभाव से पीडित तक पहुंचाने के निर्देश दिए गए।
इसके साथ ही तंबाकू के बारे में लोगों को जागरूक किया गया व बताया गया कि सार्वजानिक स्थलों पर धूम्रपान करना व थूकना कानूनी अपराध है, जिसमे धूम्रपान करने वाले व थूकने वाले व्यक्ति पर जुर्माना भी किया जा सकता है।
डॉ. रेखा सिंह प्रोग्राम नोडल अधिकारी ने बताया कि तंबाकू हमारे शरीर के लिए हानिकारक तत्व है तथा इससे प्रयोग से कैंसर जैसी भयंकर बिमारी होने का खतरा बना रहता है। इस संबंध में काउंसलर मधु ने बताया की तंबाकू व उससे संबंधित किसी भी प्रकार के सामान का विज्ञापन करना पूर्णतया प्रतिबंधित है, ऐसा करने पर पेनल्टी व सजा दोनों का प्रावधान है।
इस अवसर पर उपायुक्त ने आयुष्मान पोस्टर प्रतियोगिता के विजेता विद्यार्थियों को सम्मानित व पुरस्कृत किया। बैठक में पुलिस, श्रम, पंचायत, नगर परिषद, शिक्षा विभाग सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here