बाल भवन पलवल में राष्टï्रीय चित्रकला प्रतियोगिता का किया गया आयोजन |

0
273

 

पलवल । जिला बाल कल्याण परिषद द्वारा प्रत्येक वर्ष की भांति बाल भवन पलवल में राष्टï्रीय चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें जिले के विभिन्न स्कूली बच्चों ने भाग लिया। उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला बाल कल्याण परिषद यशपाल ने दीप प्रज्जवलित कर चित्रकला प्रतियोगिता का शुभारंभ किया।
उपायुक्त यशपाल ने कहा कि जिला बाल कल्याण विभाग द्वारा बच्चों के मानसिक व शारीरिक विकास के लिए अनेक गतिविधियां आयोजित की जा रही है। चित्रकला प्रतियोगिताओं के माध्यम से बच्चों में छुपी हुई प्रतिभा निकलकर बाहर आती है। उपायुक्त ने कहा कि बच्चों के विकास में माता-पिता के बाद शिक्षक अहम भूमिका निभाते है। अगर किसी देश का भविष्य बनाना है तो उसमें शिक्षक अपनी अहम भागेदारी निभाते है। शिक्षकों को अपने दायित्व का पूरी निष्ठïा और ईमानदारी के साथ निर्वाह करना चाहिए। उपायुक्त ने कहा कि चित्रकला प्रतियोगिता में बच्चों ने स्वच्छता, जल संरक्षण, बेटी बचाओं बेटी पढाओं जैसे सामाजिक मुद्दों को उठाया है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने जिले में स्वच्छता अभियान चलाया हुआ है। अभियान के तहत पोलीथीन को समाप्त करने के लिए लोगों को जागरूक किया गया है। चुनावों के बाद पोलीथीन को समाप्त करने का यह अभियान युद्घ स्तर पर चलाया जाएगा।
इस अवसर पर जिला बाल कल्याण अधिकारी सुरेखा डागर ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए बाल कल्याण परिषद द्वारा जिला व बाल भवन में चलाई जा रहे कार्यक्रमों, प्रशिक्षण व गतिविधियों के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी।
उन्होंने बताया इस प्रतियोगिता में सामान्य श्रेणी के बच्चों के लिए तीन ग्रुप आयु 5 वर्ष से 9 वर्ष, 10 वर्ष से 16 वर्ष तथा विकलांग बच्चों के लिए दो गु्रप आयु 5 वर्ष से 10 वर्ष तथा 11 वर्ष से 18 वर्ष आयु वर्ग के अनुसार निश्चित किए गए। चित्रकला प्रतियोगिता में भाग लेने वाले बच्चों को 40 सें.मी.*50 सें.मी. (16’’*20’’) की कागज शीट मौके पर ही जिला बाल कल्याण परिषद द्वारा उपलब्ध करवाई गई। प्रतियोगिता ऑन द स्पॉट है और विजयी बच्चों के चित्रों को राष्ट्रीय प्रतियोगिता में सम्मलित करने के लिए भारतीय बाल कल्याण परिषद, नई दिल्ली को भेजा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here