नरेन्द्र गुप्ता का कार्यकर्ता से नेता बनाना रहा पुरे चुनाव प्रचार के दौरान चर्चांओं में

0
258

फरीदाबाद। हरियाणा विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान फरीदबाद लोकसभा क्षेत्र मे फरीदाबाद 89 विधानसभा क्षेत्र पूरे चुनाव के दौरान खासी चचार्ओं में रहा, असल मे इस विधानसभा से भारतीय जनता पार्टी ने एक ऐसे कार्यकर्ता को पार्टी का टिकट देकर नेता बना दिया जो कि पिछले तीन दशक से अधिक समय से पार्टी की दरी बिछाने का काम कर रहा है। आज के दौर में यह एक आश्चर्य से कम नहीं है कि एक आम कार्यकर्ता को एकाएक पार्टी विधानसभा का टिकट दे दे। यही कारण है कि पिछले दो सप्ताह के चुनाव के दौरान हर कार्यकर्ता व भले आदमी ने नरेन्द्र गुप्ता का समर्थन करना अपना फर्ज समझा क्योंकि पहली बार ऐसा हुआ है जब जनता से सीधे जुडे एक कार्यकर्ता को पार्टी ने नेता बनाया है। असल में एक मैकेनिक के रुप में अपना व्यवसायिक जीवन शुरू करने वाले 59 वर्षीय नरेन्द्र गुप्ता आज कई बड़े बडे कारखानों के मालिक है तथा कई ऐसे उत्पाद हैं जिनको बनाने वाले वह एशिया के एकमात्र उत्पादक हैं, लेकिन बावजूद इसके उनके सरल व सीधे स्वाभाव के चलते हर कोई उनका कायल है, उनके बारे में कहा जाता है कि जब तक कोई उनसे नहीं मिलता तब तक का तो कहते नहीं लेकिन जब कोई उनसे मिल ले तो वह उनका ही होकर रह जाता है। उनके सीधे व सरल स्वाभाव व पार्टी के प्रति समर्पण को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने उनको सन 1994 में बल्लभगढ मंडल का अध्यक्ष बनाया और वह सन 2000 तक इस पद पर रहे। उनके पार्टी के प्रति समपर्ण को देखते हुए सन 2000 में उनको पार्टी के उद्योग प्रकोष्ठ का जिला अध्यक्ष नियुक्त कर दिया गया। बतौर उद्योग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष उनके काम का पार्टी ने लोहा माना और सन 2004 में उनको इस प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेवारी दे दी गई। प्रदेश में काम करते हुए संगठन को लगा कि यह समाजसेवी प्रदेश में सेवाएं देने लायक है तो सन 2007 में उनको प्रदेश कार्यकारणी का सदस्य नियुक्त किया गया, उसके बाद उनको प्रदेश भाजपा का कोषाध्यक्ष नियुक्त कर दिया गया जिस पर आज भी वह कार्यरत हैं। सेक्टर-15 के स्थाई निवसी नरेन्द्र गुप्ता इससे पहले सेक्टर-7 में रहते थे, और कॉमर्स संकाय में स्नातक नरेन्द्र गुप्ता केवल भाजपा में ही सक्रिय नहीं रहे बल्कि वह समाजिक व धार्मिक संगठनों से भी सीधा जुडे रहे जहां वह उद्योग चला कर उद्योगपति है तथा एफआईए तथा एमएएफ जैसे औद्योगिक संगठनों के वह उपपधान हैं तो अग्रवाल सेवा सदन सेक्टर-11 के ट्रस्टी हैं, व्यापार मंडल बल्लभगढ के प्रधान का दायित्व वह निभा रहे हैं तो नव चेतना जैसे ट्रस्ट जिसने विश्व का सबसे उंचा झंडा फरीदाबाद में लगाया तथा हर महीने गरीबों के लिए कोई न कोई सेवा करता है उसके भी नरेन्द्र गुप्ता कोषाध्यक्ष हैं। नरेन्द्र गुप्ता के बारे में यह कहा जाता है कि वह साफ व सीधे स्वाभव के इंसान हैं जो कि कहते हैं वह करने में विश्वास रखते हैं, यही कारण है कि इस चुनाव प्रचार के दौरान नरेन्द्र गुप्ता का हर वर्ग ने खुलकर समर्थन किया, कोई समुदाय हो, कोई जाति धर्म हो हर किसी ने नरेन्द्र गुप्ता मे अपना विश्वास व्यक्त किया। उनका स्वभाव ही कारण माना जा रहा है कि कांग्रेस के पितामह कहे जाने वाले वी आर ओझा ने भी उनको सार्वजनिक तौर पर आशीर्वाद देने से गुरेज नहीं किया तो पहली बार फरीदाबाद के इतिहास में ऐसा हुआ जब उद्योग जगत के पितामह के सी लखानी से लेकर एक मलीन वस्ती में रहने वाले रेहडी पटरी वाले ने खुल कर नरेन्द्र गुप्ता को अपना समर्थन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here