पिछले साल इंडिया इंक के टॉप बॉस की पगार में औसतन 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी

0
273

 

मुंबई:  पिछले साल भारतीय कंपनियों के टॉप बॉस की पगार में औसतन 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई जबकि कंपनियों का मुनाफा औसतन कम रहा था। आप सोचेंगे ऐसा कैसे? दरअसल, कंपनियां हमारी तरह नहीं सोचतीं। उन्होंने कम मुनाफे के बावजूद अपने मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ की सैलरी में ज्यादा बढ़ोतरी की ताकि ये टॉप बॉसेज कंपनियों को मुश्किल दौर से निकालने में अपना जी-जान लगा दें। इसे गौर से समझें तो यह ‘जितना बड़ा टार्गेट, उतना ज्यादा वेतन’ का फॉर्म्युला ही लागू हुआ है। हालंकि, कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों और अन्य कर्मचारियों की सैलरी में अंतर बढ़ने की चिंता भी सामने आई। पिछले वित्त वर्ष में सामान्य कर्मचारियों और अधिकारियों की सैलरी में 9-9.5 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।RPG ग्रुप के चेयरमैन हर्ष गोयनका ने कहा, ‘मुश्किल कारोबारी हालात में कंपनियां अच्छे टैलंट को साथ बनाए रखना चाहती हैं।’ उन्होंने कहा कि भारत और वैश्विक स्तर पर कारोबारी चुनौतियां बढ़ी हैं, इसलिए सीईओ की सैलरी में शायद अधिक बढ़ोतरी हुई। गोयनका ने कहा, ‘शीर्ष स्तर पर अच्छे टैलंट की भी कमी है। यह भी सैलरी अधिक बढ़ने की एक वजह हो सकती है।’वित्त वर्ष 2019 में कंपनियों के एमडी और सीईओ का औसत वेतन 6.39 करोड़ रुपये रही, जो वित्त वर्ष 2018 में 5.53 करोड़ और 2017 में 4.49 करोड़ थी। इकनॉमिक टाइम्स के सीईओ की सैलरी के विश्लेषण से यह जानकारी मिली है। इसमें कंपनियों के प्रमोटरों को शामिल नहीं किया गया। इसके लिए आंकड़े बीएसई 500 इंडेक्स में शामिल 90 कंपनियों की ऐनुअल रिपोर्ट से लिए गए हैं।

इस पर ऑडिट और अकाउंटिंग कंपनी हरिभक्ति ऐंड कंपनी के चेयरमैन शैलेश हरिभक्ति ने कहा, ‘परफॉर्मेंस के आधार पर नॉमिनेशन और रिम्यूनरेशन कमिटी सैलरी तय करने में बहुत सावधानी बरतती हैं।’

इनमें ITC, L & T, ऐक्सिस बैंक, HDFC बैंक, HDFC लाइफ इंश्योरेंस, TCS, टाटा स्टील और ग्लेक्सोस्मिथक्लाइन फार्मा जैसी अपने-अपने क्षेत्र की दिग्गज कंपनियां भी शामिल हैं। 90 सीईओ और एमडी को वित्त वर्ष 2019 में कुल 549.41 करोड़ रुपये दिए गए जबकि एक साल पहले उन्हें 475.62 करोड़ रुपये मिले थे। इसमें बेसिक सैलरी, भत्ते, वेरिएबल पे और कमीशन की रकम शामिल है, हालांकि स्टॉक ऑप्शंस को अलग रखा गया है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here