जेट फ्यूल 2.5 फीसदी महंगा

0
322

 

नई दिल्ली: जेट एयरवेज संकट के बाद हवाई किरायों में हुई वृद्धि अभी और बढ़ सकती है। डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट की वजह से तेल कंपनियों ने पीक सीजन में विमान ईंधन की कीमतों में 2.5 फीसदी इजाफा कर दिया है। एक किलोलीटर (1000 लीटर) एविएशन टरबाइन फ्यूल (ATF) की दिल्ली और मुंबई में कीमत अब क्रमश: 65,067.85 और 65,029.29 रुपये होगी, जबकि पिछले महीने कीमत 63,472.22 और 63,447.54 रुपये थी।जेट एयरवेज की सेवाओं में कमी और फिर 17 फरवरी को विमानन कंपनी का परिचालन अस्थायी रूप से ठप होने के बाद विमानों का किराया आसमान छूने लगा। सरकार ने विमानन कंपनियों से अपील की है कि वे क्षमता विस्तार के जरिए हवाई यात्रा की कीमतों में कमी लाने में मदद करें।

एटीएफ महंगाई का हवाई किरायों पर असर को लेकर एयरलाइन कंपनियों से सवाल पूछा गया है, लेकिन अभी जवाब नहीं मिला है। सूत्रों का कहना है कि एटीएफ दाम में आए उछाल का बोझ ग्राहकों पर ही डाला जाएगा।

एक अधिकारी ने कहा, ‘जो एयरलाइन कंपनियां किंगफिशर और जेट की तरह बर्बाद नहीं होना चाहतीं उनके पास और विकल्प क्या है? ऑपरेटिंग कॉस्ट और हवाई किरायों में अंतर की वजह से ही भारत में इतनी एयरलाइंस कंपनियां डूब रही हैं।’ एयरलाइंस कंपनियां एक दशक से भी अधिक समय से इस बात की शिकायत कर रही हैं कि भारत एटीएफ की सर्वाधिक कीमतों वाले देशों में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here