यूपीए के GDP डेटा में संशोधन के फैसले के बचाव में उतरे जेटली

0
342

 

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यूपीए (संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन) सरकार के समय के जीडीपी डेटा को संशोधित किए जाने के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि सीएसओ (केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय) एक विश्वसनीय संगठन है और वह वित्त मंत्रालय से दूरी बनाकर रहती है।

नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार के साथ वित्त मंत्री जेटली ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि सीएसओ जैसी विश्वसनीय संस्था को बदनाम कर वह कोई सेवा कर रहे हैं।’

जेटली ने कहा कि जब सीएसओ ने 2012-13 और 2013-14 के आंकड़ों को संशोधित कर उसे बढ़ाया था तब तत्कालीन सरकार ने इसका स्वागत किया था। और जब सीएसओ ने उसी पैमाने का इस्तेमाल कर आंकड़ों को संशोधित करते हुए उसे कम किया तो उसका स्वागत किया जाना चाहिए।

गौरतलब है कि सीएसओ के डेटा को संशोधित किए जाने के फैसले को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने ‘’बुरा मजाक’’ करार दिया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘नीति आयोग की तरफ से संशोधित जीडीपी डेटा मजाक है। यह एक बुरा मजाक है। चिदंबरम ने कहा, ‘वास्तव में यह खराब मजाक से भी बदतर है। आंकड़ें फेरबदल का नतीजा है।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here