भारत के एयर स्ट्राइक से पाकिस्तानी शेयर बाजार में भी कोहराम

0
440

नई दिल्ली : भारत के एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान की सियासत और मीडिया के साथ-साथ वहां के शेयर बाजार में कोहराम मच गया है।  कराची स्टॉक एक्सचेंज का केएसई- 100 करीब 1100 अंक तक टूट गया। दोपहर 2.07 बजे यह इंडेक्स 1,086.07 अंक यानी 2.80% की गिरावट के साथ 37,735.60 तक आ पहुंचा। इससे पहले, केएसई- 100 इंडेक्स 785.12 अंक यानी 1.98% गिरकर 38,821.67 अंक पर बंद हुआ था।बड़ी गिरावट के साथ खुला था पाकिस्तान स्टॉक मार्केट
गिरावट का यह दौर आज सुबह से भी जारी है। आज पाकिस्तानी शेयर बाजार खुलने के बाद केएसई- 100 इंडेक्स में 200 से ज्यादा अंक टूट चुका था। सुबह 11.15 बजे केएसई- 100 में 386.95 यानी 1% की गिरावट आ चुकी थी और यह संवेदी सूचकांक 38,434.72 पर था। उसके बाद बिकवाली का माहौल जोर पकड़ता गया।

गिरकर संभला भारतीय बाजार
ध्यान रहे कि मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार भी गिरावट के साथ खुले थे। सुबह पाकिस्तान की सीमा भारत के एयर स्ट्राइक की खबर आने के बाद सेंसेक्स 237.63 अंक (0.66%) और निफ्टी 104.80 अंक (0.96%) टूटकर क्रमशः 35,975.75 और 10,775.30 पर खुले थे। सेंसेक्स इंट्राडे में 35,714.16 के निचले स्तर तक चला गया था, लेकिन 260 अंकों की रिकवरी के साथ 35,973.71 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 45 अंकों की गिरावट के साथ 10,835.30 पर रहा, जो दिन के 10,729.30 के निचले स्तर से 106 अंक ऊपर है। लेकिन, अगले दिन बुधवार को सेंसेक्स 165.12 अंक (0.46%) और निफ्टी 45.90 अंक (0.42%) मजबूत होकर क्रमशः 36,138.83 और 10,881.20 पर खुले + ।

पाकिस्तान में भारत का एयर स्ट्राइक
गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ दल पर आत्मघाती हमला किया गया था, जिसमें 40 सीआरपीएफ जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इसलिए, सोमवार 25 जनवरी की रात भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान की सीमा में करीब 80 कि.मी. अंदर घुसकर बालाकोट में जैश के ठिकाने को तबाह कर दिया।

मोदी की मजबूती की उम्मीद में शेयर बाजार उछला
भारतीय शेयर बाजार इस घटना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता में इजाफे का सबब मान रहा है। बाजार को भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध की आशंका नहीं दिख रही। इसलिए भारतीय शेयर बाजार बुधवार को बढ़त के साथ खुले। वहीं, आर्थिक मोर्चे पर बेहद कमजोर पाकिस्तान में तमाम तरह की आशंकाएं उमड़-घुमड़ रही हैं। इसलिए खुदरा निवेशकों ने कराची स्टॉक एक्सचेंज से पैसे निकालने शुरू कर दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here