भारत-कनाडा व्यापार समझौता जल्द होने की संभावना नहींः उच्चायुक्त नादिर पटेल

0
325

अहमदाबाद: भारत में कनाडा के उच्चायुक्त नादिर पटेल के मुताबिक दोनों देशों के बीच व्यापार समझौता जल्द होने की संभावना बहुत कम है लेकिन भारत और कनाडा के बीच कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। पिछले पांच साल में दोनों देशों में द्विपक्षीय कारोबार 60 प्रतिशत बढ़कर नौ अरब डॉलर का हो गया है और अगले कुछ वर्षों में इसके तीन गुना हो जाने की उम्मीद है। पटेल ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ”मुझे नहीं लगता कि व्यापार समझौता जल्द पूरा होगा क्योंकि बातचीत की रफ्तार धीमी है। हालांकि दोनों पक्ष इसके लिए इच्छुक हैं।” उन्होंने कहा, ”वास्तव में कनाडा मुक्त व्यापार पर आधारित अर्थव्यवस्था है जबकि भारत अब भी कई क्षेत्रों में संरक्षणवादी है, इसलिए बातचीत की रफ्तार सुस्त है। बातचीत चल रही है और हमें उम्मीद है कि एक बिन्दु पर हम उसे अंतिम रूप दे देंगे।” दोनों देशों के बीच व्यापार समझौते पर बातचीत पिछले एक दशक से अधिक समय से चल रही है। पटेल से पूछा गया कि अगले कुछ महीनों में व्यापार वार्ता को लेकर किसी तरह की बैठक होने वाली है तो उनका जवाब ना में रहा। उन्होंने कहा, ”पहले भारत में चुनाव एवं अब कनाडा में चुनाव के कारण निकट भविष्य में बातचीत की कोई संभावना नहीं दिख रही है।” भारत में कनाडा के राजदूत के रूप में लगभग पांच साल पूरा करने वाले पटेल ने कहा कि पिछले पांच साल में दोनों देशों के बीच व्यापार में ठोस वृद्धि हुई है। पटेल मूल रूप से गुजरात के रहने वाले हैं। उन्होंने कहा, ”पिछले पांच साल में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार 60 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी के साथ नौ अरब डॉलर हो गया है और अगले कुछ साल में तीन गुना तक बढ़कर 30 अरब डॉलर का हो जाने की संभावना है। कुल वृद्धि का लक्ष्य 50 अरब डॉलर का है।” पटेल ने कहा, ”पिछले कुछ साल में भारत में कनाडा की कंपनियों का निवेश साढ़े चार अरब डॉलर से बढ़कर 25 अरब डॉलर हो गया है। भारत में कनाडा की 1,000 से अधिक कंपनियों ने निवेश किया है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here