कश्मीर पर दुनिया की तवज्जो नहीं मिलने से इमरान बेहद हैं परेशान

0
294

नई दिल्ली: कश्मीर पर दुनिया का ध्यान आकर्षित करने में बुरी तरफ असफल रहे पाकिस्तान अब अपना पुराना हथकंडा अपनाने लगा है। वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर विश्व बिरादरी को परमाणु युद्ध की धमकी दे डाली और कहा कि अब वह कश्मीरियों के ऐंबैसडर बन गए हैं। बड़बोले इमरान ने कहा कि पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर ‘ऐतिहासिक गलती’ कर दी है।

इमरान ने कहा कि मोदी ने कश्मीर की ‘आजादी’ का रास्ता तैयार कर दिया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की कश्मीर नीति के ‘निर्णायक’ मोड़ लेने की घड़ी आ गई है। इमरान ने दुनिया को चेतावनी दी है कि उनका देश पाकिस्तान और भारत, दोनों परमाणु शक्ति संपन्न हैं और परमाणु युद्ध में कोई विजेता नहीं होता है।पाक पीएम ने सोमवार को देश के नाम संबोधन में कहा कि कश्मीर के ‘प्रताड़ित’ लोगों की मदद करने की जिम्मेदारी संयुक्त राष्ट्र की है। उन्होंने टेलिवीजन पर प्रसारित अपने संबोधन में कहा, ‘भविष्य में यह साबित हो जाएगा कि हिंदुस्तान की सरकार ने कश्मीरियों को आजादी पाने का मौका दे दिया है। उन्होंने (भारत ने) अपना आखिरी पाशा फेंक दिया है।’

इमरान खान ने कहा कि वह बतौर कश्मीर के ऐंबैसडर दुनिया को बताएंगे कि ‘हिंदुस्तान की यह सरकार कोई सामान्य सरकार नहीं है, बल्कि यह एक खतरनाक सोच रखने वाली सरकार है।’

उन्होंने कहा कि वह न्यू यॉर्क में अगले महीने संयुक्त राष्ट्र आम सभा (यूएन जनरल असेंबली) के सत्र में कश्मीर का मुद्दा उठाएंगे। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कश्मीरियों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए हर सप्ताह को आधे घंटे का कोई न कोई कार्यक्रम रखने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि पहला कार्यक्रम शुक्रवार को 12 से 12.30 बजे होगा। उस दिन दफ्तरों में काम करने वाले लोगों से लेकर घरों में रह रहे लोग तक बाहर आकर एकजुटता का प्रदर्शन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here