शहीदों के परिजनों को किया गया सम्मानित

0
139

नूंह|हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के मानद महासचिव प्रवीण के कुशल नेतृत्व में ” शहीद प्रायोजन योजना ” को मध्य नजर रखते हुए जिला बाल कल्याण परिषद नूंह अध्यक्ष व उपायुक्त नूंह कैप्टन शक्ति सिंह के कर कमलों से नूंह जिले के शहीद हुए सैनिकों के परिजनों को ₹5100 का चेक,एक स्मृति चिन्ह व शाल भेंटकर सम्मानित किया।इस अवसर पर कैप्टन शक्ति सिंह ने कहा कि देश का प्रत्येक शहीद सैनिक जवान महत्वपूर्ण है और उनके परिवार का मान सम्मान करना प्रशासन व सरकार का कर्तव्य है। बाल कल्याण परिषद ने शहीद परिवार के परिजनों के लिए जो योजना प्रारंभ की है वह प्रशंसा के योग्य है।
साथ ही उपायुक्त महोदय ने कहा कि आज हम सैनिकों की बदौलत ही रात को चैन की नींद सो पाते हैं।उनका बलिदान देश और प्रदेश के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। और उनके परिवार जनों का मान सम्मान व सुरक्षा मुहैया कराना प्रशासन का दायित्व बन जाता है । उन्होंने कहा कि हमें देश के युवाओं में देशभक्ति की भावना जज्बा और जोश उत्पन्न करना है। जिन शहीदों ने देश के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया उनका सम्मान करना हम सब का नैतिक दायित्व है राष्ट्र सर्वप्रथम हैं यह भावना हमें आमजन में भी पैदा करनी होगी देश को आजाद करवाने और देश की सीमाओं को सुरक्षित रखने में जिन देशभक्तों ने अपना सर्वस्व न्योछावर या हम उनके बलिदान को कभी नहीं भुला सकते। हमें शहीदों के प्रति अति सम्मान दिखाना होगा। हमें देश के वीरों देश की आन बान-शान और देश के रक्षकों का सम्मान करना होगा।
इस अवसर पर जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री, इतिहास प्राध्यापक अशरफ मेवाती और शहीदों के परिजन आशिया पत्नी स्वर्गीय सूबेदार नसरुद्दीन जी, जमुना खान पत्नी स्वर्गीय लांस नायक आस मोहम्मद, बस्सी पत्नी स्वर्गीय नायक तरजीह अहमद, उर्मिला देवी पत्नी स्वर्गीय सिपाही शेर सिंह विद्या देवी पत्नी स्वर्गीय मौजी राम, हाजरा पत्नी स्वर्गीय अहमद कारगिल शहीद और स्वर्गीय लेफ्टिनेंट किरण शेखावत के ससुर श्री चंद उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here