नार्थईस्ट और बेंगलुरू जंग में आमने सामने होंगे

0
297

 

गुवाहाटी: नार्थईस्ट यूनाईटेड एफसी की टीम अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंचने की जंग में बेंगलुरू एफसी का सामना करेगी तो उसकी यह इंडियन सुपर लीग के वर्तमान सत्र की सबसे बड़ी परीक्षा होगी। पिछले साल की उपविजेता बेंगलुरू आठ मैचों में अजेय रही है, जिनमें से सात मैचों में उसे जीत मिली है। उसने लगातार छह मैच जीते हैं और वह अंकतालिका में शीर्ष पर है। लेकिन अब उसका सामना दूसरी सर्वश्रेष्ठ टीम से है और इसलिए उसे सतर्क रहने की जरूरत है। नार्थवेस्ट के कोच एल्को स्काटोरी बेंगलुरू के अजेय क्रम को तोड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

उनकी टीम इस सत्र शानदार फॉर्म में है, लेकिन अपने घरेलू मैदान पर अब तक खेले गये चार मैचों में से उसे सिर्फ एक में जीत मिली है। इसके बावजूद स्काटोरी को सकारात्मक परिणाम की उम्मीद है। इस मैच में स्काटोरी अपने स्टार खिलाड़ी बार्थोलोमेव ओग्बेचे पर काफी हद तक निर्भर रहेंगे।

ओग्बेचे इस समय गोल्डन बूट की रेस में हैं। स्काटोरी ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि बेंगलुरू बेहतर स्थिति में है लेकिन उनके पास उनका सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मिकू नहीं है यह उनके लिए बुरी खबर है। बेंगलुरू हालांकि मिकू के बिना भी मैच जीत सकती है। उन्होंने अभी तक सिर्फ छह गोल खाए हैं इसलिए उनके डिफेंस को तोड़ना आसान नहीं होगा।’’ मध्यपंक्ति में जोस लेयूडो और रोवलिन बोर्जेस के कंधों पर अतिरिक्त जिम्मेदारी होगी क्योंकि उनको दिमास डेलगाल्डो और एरिक पार्टालू की जोड़ी का सामना करना है। अगर बेंगलुरू की बात तो उसने अपने घरेलू मैदान से बाहर चार मैच खेले हैं और चारों में उसे जीत मिली है।

मिकू बेंगलुरू की टीम का अहम हिस्सा हैं, लेकिन उनकी गैरमौजूदगी में कप्तान सुनील छेत्री, उदांता सिंह ने जिम्मेदारी को बखूबी संभाला है। राहुल भिके और निशू कुमार जैसे खिलाड़ियों ने गोल कर टीम की जीत में अहम भूमिका निभायी है। बेंगलुरू के कोच कार्लस कुआड्राट ने कहा, ‘‘नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी ने इस सीजन शानदार खेल खेला है। इस सीजन मैंने उनके जितने मैच देखे हैं उन्हें देखकर मैं कह सकता हूं कि पर्दे के पीछे काफी अच्छास काम चल रहा है। उनके पास कुछ अच्छे खिलाड़ी हैं।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here