डैमेज हड्डियों को जोड़ने में काम आएंगे अंडे के छिलके

0
260

 

आप जानते हैं कि न सिर्फ अंडा बल्कि इसका छीलका भी पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जी हां, अंडे का छिलका कैल्शियम कार्बोनेट का बेहतरीन सोर्स है जिसका इस्तेमाल डैमेज हो चुकी हड्डियों को सही करने में किया जा सकता है।यूनिवर्सिटी ऑफ मैसचूसेट्स लॉवेल में हाल ही में हुई एक स्टडी में चूहों के साथ-साथ माइक्रोऑर्गैनिज्म और सेल्स के साथ की गई स्टडी में यह बात सामने आयी कि अंडे के छिलकों को क्रश कर क्षतिग्रस्त हो चुकी हड्डियों को रिपेयर करने में इस्तेमाल किया जा सकता है और ये एक नया हेल्थ ट्रेंड है। अनुसंधानकर्ताओं ने इस रिसर्च के लिए मुर्गी के अंडे के छिलकों को लिया और उसे अच्छी तरह से क्रश कर लिया। इसके बाद उन्होंने उन छिलकों को एक हाइड्रोजेल मिक्सचर में डाला जिससे उसका एक फ्रेम बन पाए जिसमें बोन सेल्स के जरिए नई हड्डी को उगाया जा सके।
कैल्शियम से भरपूर होता है अंडे का छिलका
अंडे के छिलके कैल्शियम से बने होते हैं लिहाजा इस खूबी की वजह से बोन सेल्स को विकसित होने में मदद मिलती है जिसके बाद वे बोन सेल से टिशू बन जाते हैं और जल्द रिपेयर भी हो जाते हैं। इस तकनीक का इस्तेमाल बोन ग्राफ्टिंग सर्जरी की प्रक्रिया को तेज करने में भी किया जा सकता है। लेकिन अब तक यह एक्सपेरिमेंट सिर्फ लैब में चूहे पर किया गया है। लेकिन अनुसंधानकर्ताओं की मानें तो जल्द ही ये बायोमटीरियल इंसानों में भी क्षतिग्रस्त हड्डी को रिपेयर करने के काम आ सकता है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया के कई हिस्सों में लोग अंडे के छिलके को अच्छी तरह से क्रश करके बारीक पाउडर बना लेते हैं और हड्डियों के लिए नैचरल कैल्शियम सप्लिमेंट के तौर पर इसका इस्तेमाल भी किया जाता है। हालांकि यह प्रैक्टिस रिस्की हो सकती है क्योंकि कई बार अंडे सैल्मोनेला बैक्टीरिया से दूषित होते हैं और अगर इन दूषित छिलकों का सेवन किया जाए तो इससे गंभीर इंफेक्शन होने का खतरा रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here