सेक्टर 21 में काटे गए दर्जनों हरे पेड़ :पराशर

0
289

फरीदाबाद: शहर को हर साल सबसे प्रदूषित शहर का ख़िताब मिलता है लेकिन शहर के लोग अब भी जागरूक नहीं हो रहे हैं और हरे भरे पेड़ों की कटाई जारी है। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के प्रधान एडवोकेट एलएन पराशर का जिन्होंने कहा कि शविवार सुबह मुझे फरीदाबाद के सेक्टर 21 में दर्जनों हरे पेड़ कटे मिले। पाराशर ने कहा कि वन विभाग के अधिकारी शायद सो रहे हैं इसलिए लोगों ने यहाँ भारी मात्रा में हरे पेड़ काटे हैं। उन्होंने कहा कि एक पौंधे को बड़ा पेड़ बनाने के लिए उनका बच्चों जैसी देखभाल करनी पड़ती है लेकिन यहाँ लोगों के कई हरे पेड़ों पर कुल्हाड़ी चला दी। वकील पाराशर ने कहा कि फरीदाबाद में प्रदूषण का स्तर इन दिनों बहुत अधिक बढ़ रहा है। इससे लड़ने का एकमात्र तरीका अधिक से अधिक पेड़ लगाना है। उदाहरण के लिए पेड़ों से घिरे क्षेत्र, गांव और जंगल शुद्ध पर्यावरण को बढ़ावा देते हैं। बिना पर्याप्त पेड़ों के हम लंबे समय तक जीवित नहीं रह पाएंगे।

उन्होंने कहा कि शहर के लोग ऐसे ही बेधड़क हरे पेड़ों को काटते रहे तो शहर में प्रदूषण और बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि ठीक इसी तरह से अरावली क्षेत्र में भी पेड़ों की कटाई चल रही है और अरावली पर फ़ार्म हाउस बनाने वाले बाहर से बड़ी चारदीवार खड़ी कर अंदर से हरे पेड़ों को काट वहाँ मैदान बना देते है। उन्होंने कहा कि इनमे से अधिकतर फार्म हाउस अवैध है लेकिन फरीदाबाद में अवैध कारनामों की भरमार आ गई है। सम्बंधित अधिकारियों की मिलीभगत के कारण फरीदाबाद में गलत काम फल फूल रहे हैं। उन्होंने कहा कि सेक्टर 21 के ग्रैंड विस्टा अपार्टमेंट के बाहर ग्रीन बेल्ट पर ये पेड़ काटे गए हैं और मैं सम्बंधित विभाग के बड़े अधिकारियों को पत्र लिख मांग करूंगा कि जिसने भी इन पेड़ों को काटा है उन पर तुरंत कार्यवाही की जाये ताकि और हरे पेड़ न काटे जा सकें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here