स्वच्छता व जल शक्ति अभियानों की सफलता के लिए लोगों में जागरूकता है बहुत जरूरी: उपायुक्त

0
341

 

पलवल।  उपायुक्त यशपाल ने कहा कि स्वच्छता व जल शक्ति अभियानों की सफलता के लिए लोगों में जागरूकता बहुत जरूरी है। जिला प्रशासन की ओर से इन दोनों अभियानों को जन अभियान बनाने के लिए लोगों से निरंतर सहयोग की अपील की जा रही है।
उपायुक्त वीरवार को लघु सचिवालय के तृतीय तल पर स्थित सभागार में प्रैस वार्ता के दौरान कहा कि मीडिया एक सशक्त माध्यम है, जिसके द्वारा लोगों के हित के लिए चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं, कार्यक्रमों के बारे में उन्हें जागरूक करता है। स्वच्छता व जल शक्ति जैसे अभियान के बारे में मीडिया के सभी माध्यमों के द्वारा लोगों को जागरूक किया जाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि अमु्रत योजना के तहत करीब 122 करोड़ रुपये की लागत से सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य किया जा रहा है, जिसका कार्य अगले वर्ष तक पूरा होने की संभावना है। इसी प्रकार शहर में लोगों से अपील की जा रही है कि घरों से प्रतिदिन निकलने वाले कूड़े का या तो स्वयं निस्तारण करना सुनिश्चित करें या फिर नगर परिषद द्वारा डोर-टू-डोर कूडा कलैक्शन की जो योजना बनाई जा रही है, उसका लाभ उठाएं। लोगों को चाहिए कि वह कूड़े को इधर-उधर ना फैंके तथा पलवल को साफ व स्वच्छ बनाए रखने में प्रशासन के प्रयासों में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि शहर में 18 जगह ऐसी चिन्हित की गई हैं, जहां कूड़े को इक् कर सूखा व गीला कचरा अलग-अलग किया जाएगा तथा कूड़े को कम्पोस्ट में परिवर्तित किया जाएगा। इसके अलावा सूखे कूड़े को रि-साइकल किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से एक जुलाई से जल शक्ति अभियान शुरू किया गया है, जिसके तहत गांवों व शहरों में विभिन्न गतिविधियां संबंधित विभागों के माध्यम से करवाई जा रही हैं। ग्राम पंचायतों के माध्यम से गांवों में 500-500 पौधे रोपित किए जा रहे हैं। स्कूलों में भी पौधा रोपण व जल संरक्षण के प्रति जागरूकता के कार्यक्रम करवाए जा रहे हैं। गांव व शहरों में तालाबों का सुधारीकरण तथा करीब 11 तालाबों को मॉडल तालाबों के रूप में विकसित किया जाएगा। गांवों के पानी की निकासी को तालाबों से जोडा जाएगा। किसानों को जागरूक किया जा रहा है कि वे अधिक पानी से होने वाली फसलों की बजाय कम सिंचाई से होने वाली फसलों का उत्पादन करें। लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि वे घरों में सोख्ता गड्ढï अवश्य बनवाएं ताकि पानी को भूमि में रिचार्ज किया जा सके।
उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा राजस्व से संबंधी मामलों को भी निपटाने में गंभीरता लाई जा रही है, जिसके तहत इंतकाल व जमाबंदी, गिरदावरी व अवैध कब्जों जैसे मामलों को निपटाया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि चुनाव आयोग की ओर से मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसके तहत नए वोट बनवाने व मतदाता सूचियों में नाम व पता ठीक करवाने संबंधी दावे व आपत्तियां प्राप्त की जा रही हैं। यह कार्यक्रम 30 जुलाई तक चलेगा। सभी बूथों पर प्रतिदिन 3 से 5 बजे तक तथा शनिवार व रविवार के दिनों में प्रात 9 बजे से सायं 5 बजे तक बीएलओ बूथों पर उपस्थित रहकर दावे व आपत्तियां प्राप्त कर रहे हैं। इस अवसर पर नगराधीश आशिमा सांगवान भी मौजूद थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here