उपायुक्त यशपाल ने प्रशासनिक व पुलिस के अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश

0
244

फरीदाबाद,। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि जिला में कोविड-19 के मद्देनजर कन्टेनमैन्ट जोन में लोगों की किसी भी तरह की मूवमेंट ना हो। इसके लिए जोन से संबंधित प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी लॉकडाउन की हिदायतों की अनुपालना सुनिश्चित करें। इसके अलावा जो लोग लॉकडाउन की हिदायतों की पालना नहीं कर रहे, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाए।उपायुक्त यशपाल मंगलवार को दोपहर बाद लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में जिला संकट निगरानी सीमिती के बैठक में उपस्थित प्रशासनिक व पुलिस के अधिकारियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि जिला में कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉ एण्ड ऑर्डर की पूरी पालना होनी चाहिए। जरूरतमंद व्यक्तियों को दिए जाने वाले भोजन के पैकेट तथा राशन वितरण के दौरान भीड़ इकट्ठी नही होनी चाहिए। उस जगह पर हर हालत में सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन हो। सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के जरूरतमंद परिवारों और व्यक्तियो का डाटा अवश्य इक्कठा करें। लोगों के सरकारी कर्मचारियों तथा वार्डो की यूनिट कमेटियों के माध्यम से डोर टू डोर फ़ार्म अवश्य भरवाना सुनिश्चित करें।
उपायुक्त ने कहा कि कन्टेनमैन्ट जोन में अलग-अलग कल्सटर बनाकर वहां पर दूध, सब्जियों, राशन तथा अन्य रोजाना उपयोग वाली वस्तुओं के लिए होम डिलीवरी करवाएं। इन इलाकों को नियमित रूप से सेनेटाइज करवाना सुनिश्चित करें। इन जोन में हर रोज सर्वे अवश्य करें।उन्होंने कहा कि लोगों को लॉकडाउन के नियमों की पालना के प्रति जागरूक करें और उन्हें ट्रेनिंग, टेस्टिंग तथा आईसोलेशन के लिए प्रेरित करें। बैठक में डीसीपी हैडक्वाटर राजेश दुग्गल, एमसीएफ के अतिरिक्त आयुक्त धर्मेन्द्र सिंह, अतिरिक्त उपायुक्त रामकुमार सिंह, एसडीएम फरीदाबाद अमित कुमार, एसडीएम बङखल पंकज सेतिया, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, डीडीपीओ राकेश कुमार मोर, सिविल सर्जन, डीआरओ व एचसीएस ट्रेनिंग अधिकारी जय प्रकाश, देवेन्द्र शर्मा व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here