महिलाओं से आभूषणों की झपटमारी करने वाले 2 आरोपियों को क्राइम ब्रांच 56 ने दबोचा।*

0
100

फरीदाबाद | पुलिस आयुक्त ओपी सिंह द्वारा शहर में चोरी लूट तथा झपटमारी की वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए इन वारदातों में संलिप्त अपराधियों की धरपकड़ के दिए गए दिशा निर्देश के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच 56 की टीम ने महिलाओं से आभूषणों की झपटमारी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में अमित उर्फ बबलू तथा ताहिर का नाम शामिल है। आरोपी अमित उर्फ बबलू ओल्ड फरीदाबाद तथा आरोपी ताहिर फरीदाबाद के सेक्टर 91 का रहने वाला है। पेशे से दोनों आरोपी मोटरसाइकिल मैकेनिक हैं। अशोका एनक्लेव पार्ट 2 में आरोपी अमित उर्फ बबलू की मोटरसाइकिल मैकेनिक की दुकान है वहीं उसके पड़ोस में ही आरोपी ताहिर की टायर पंचर की दुकान है।
आरोपियों के खिलाफ फरीदाबाद के विभिन्न थानों में अगस्त महीने के अंदर आभूषण छीना झपटी के चार मुकदमे दर्ज हैं जिसमें आरोपियों ने अलग-अलग स्थानों से आभूषण स्नैच किए थे। सबसे पहले आरोपियों ने दिनांक 4 अगस्त को सेक्टर 19 की रहने वाली एक महिला को अपना निशाना बनाया। जब शाम के समय महिला मंदिर रोड पर टहलने निकली तो उसे अकेला पाकर आरोपी उस महिला के गले में पहनी 2 तोले की सोने की चेन छीनकर फरार हो गए। इसके पश्चात आरोपियों ने दूसरी वारदात को दिनांक 14 अगस्त को अंजाम दिया जब संजय कॉलोनी की रहने वाली एक महिला ऑटो में बैठकर बदरपुर बॉर्डर से अपने घर की तरफ जा रही थी। आरोपियों ने चलते ऑटो से महिला का पर्स छीन लिया जिसमें 1 सोने की अंगूठी, चेन, टोपस तथा चांदी की पाजेब, झालर और चुटकी मौजूद थी। इसके पश्चात तीसरी वारदात आरोपियों ने सेक्टर 52 में 18 अगस्त को की जहां पर रात करीब 9:00 बजे एक महिला दवाई लेकर अपने घर जा रही थी तो आरोपियों ने उसके गले में पहनी डेढ़ तोले की चेन झपट ली। चौथी वारदात आरोपियों ने 28 अगस्त को अंजाम दी जिसमे उन्होंने मुजेसर की रहने वाली एक अध्यापिका के गले में पहनी एक तोले की चेन को स्नैच किया था।पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने इन वारदातों पर लगाम लगाने के निर्देश दिए जिसके तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच 56 की टीम ने गुप्त सूत्रों की सहायता से दोनों आरोपियों को दिनांक 28 अगस्त को बाटा चौक के पास से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को अदालत में पेश करके 1 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें आरोपियों ने छीना झपटी की वारदात को कबूल किया। उन्होंने बताया कि उनका काम धंधा ठप हो चुका था और उन्होंने ब्याज पर पैसे ले रखे थे जिसकी वजह से उनके सिर पर काफी कर्जा हो गया था इसी के चलते उन्होंने इस प्रकार के वारदातों को अंजाम दिया। आरोपियों ने बताया कि उनके पास केवल एक चेन बची है। बाकी के गहने उन्होंने राह चलते आभूषणों की सफाई करने वाले व्यक्तियों को बेच दिए थे।पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त मामलों में आरोपियों के कब्जे से 1 सोने की चेन, वारदात में प्रयोग मोटरसाइकिल तथा तीन अन्य वारदातों में 40–40 हजार (1 लाख 20 हजार) रुपए बरामद किए गए जो उन्होंने आभूषणों को बेचकर कमाए थे। दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here