चीन ने पदार्पण मैच में इंग्लैंड को ड्रॉ पर रोका

0
374

भुवनेश्वर :पहली बार पुरुष हॉकी विश्व कप में हिस्सा ले रही चीन की टीम ने टालाके डु के आखिरी मिनट में किए गए गोल के दम पर हार टाल दी और शुक्रवार को कलिंगा स्टेडियम में पूल-बी का मुकाबला इंग्लैंड के खिलाफ 2-2 से ड्रॉ खेला। चीन की टीम इंग्लैंड से 1-2 से पीछे थी और यह तय लग रहा था कि वह अपने पहले विश्व कप अभियान की शुरुआत हार से करेगी, लेकिन टालाके डु ने 59वें मिनट में मिले मौके का पूरा फायदा उठाते हुए अपने देश को इस ऐतिहासिक मौके पर निराश होने से बचा लिया।

मैच का पहला गोल हालांकि चीन ने ही किया था लेकिन इंग्लैंड ने दो गोल कर जीत की तरफ कदम बढ़ा दिए थे जिस पर टालाके डु ने पानी फेर दिया। चीन की टीम ने अच्छी शुरुआत की और अपने शानदार खेल के दम पर पांचवें मिनट में ही गोल करने में सफल रही। चीन के लिए यह गोल जियाओपिंग गुओ ने किया। इंग्लैंड ने पहले क्वॉर्टर में ही बराबरी का गोल कर दिया। उसे 13वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला जिस पर मार्क ग्लेनहोर्न ने गोल कर स्कोर 1-1 से से बराबर कर लिया।

दूसरे क्वॉर्टर में चीन को 3 और इंग्लैंड को 2 पेनल्टी कॉर्नर मिले। मैच के 18वें मिनट में चीन को लगातार 3 पेनल्टी कॉर्नर मिले। तीसरे प्रयास में गेंद नेट के अंदर चली गई थी, लेकिन रेफरल में इस गोल को नकार दिया। चीन की तरह ही इंग्लैंड इस क्वॉर्टर में मिले पेनल्टी कॉर्नर पर गोल नहीं कर पाई। तीसरे क्वॉर्टर में इंग्लैंड के पास मौके आए जो असफल रहे।

इंग्लैंड के लिए चौथे क्वॉर्टर में लियाम एनसेल (48वें मिनट) ने मैदानी गोल किया और अपनी टीम को 2-1 से आगे कर दिया। अपना पहला विश्व कप खेल रही चीन बिखरी नहीं। उसने 59वें मिनट में मिले मौके को भुनाया और स्कोर बराबर कर लिया। टालाके ने पेनल्टी कॉर्नर पर इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्ज पिन्नर को छकाते हुए गेंद को नेट में डाल दिया और मैच बराबरी पर खत्म हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here