जिला जनगणना अधिकारियों एवं चार्ज अधिकारियों को जनगणना-2021 का प्रशिक्षण

0
297

पलवल, 27 फरवरी।जनगणना-2021 को लेकर वीरवार को लघु सचिवालय स्थित सभागार में जनगणना कार्य के लिए जिले में नियुक्त किए गए चार्ज ऑफिसर के लिए एक कार्यशाला का आयोजन हुआ। नगराधीश जितेंद्र कुमार ने कार्यशाला में जनगणना से जुड़े अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। नगराधीश ने कहा कि जनगणना के दौरान नागरिकों के साथ सहयोग के साथ कार्य करना जरूरी है ताकि सही तथ्य जुटाए जा सके। उन्होंने कहा कि जनगणना कार्य के बारे में लोगों में जागरूकता लाएं ताकि नागरिक सही तथ्य व जानकारी दे सकें। जहां भी किसी प्रकार की शंका नजर आए तो उसके बारे में मास्टर ट्रेनर से जानकारी ली जाए ताकि जनगणना कार्य में किसी प्रकार की कोई त्रुटि न रहे।प्रशिक्षण में हथीन के एसडीएम वकील अहमद, पलवल के एसडीएम डा. नरेश कुमार, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी डी.पी. कुलश्रेष्ठï, होडल के नायब तहसीलदार माम सिंह, बहीन के नायब तहसीलदार गुलाब सिंह, नगर परिषद पलवल के कार्यकारी अधिकारी डा. विजयपाल, पलवल के तहसीलदार रोहताश, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी अनिल शर्मा, जिला सांख्यिकी अधिकारी संजय गुप्ता, एस.ए. टेकचंद सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
कार्यशाला में चंडीगढ़ मुख्यालय से आए मास्टर ट्रेनर दिनेश रैगर व गौतम राय ने जनगणना के दौरान की कार्यप्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी दी। जनगणना-2021 के लिए जिला अधिकारियों एवं चार्ज अधिकारियों का दो दिवसीय कार्यशाला में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रशिक्षण 27 फरवरी व 28 फरवरी 2020 को तहसीलदारों, कार्यकारी अधिकारियों तथा सभी सचिवों को दिया जा रहा है।
कार्यशाला में जनगणना अधिकारी ने बताया कि इससे पूर्व राज्य स्तर पर प्रधान सचिव हरियाणा की अध्यक्षता में 14 फरवरी 2020 को सभी प्रधान जनगणना आयुक्तों (आयुक्त नगर निगम एवं सभी उपायुक्तों) को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा चुका है। साथ ही यह भी बताया गया कि जिले में मार्च 2020 के दौरान 35 फील्ड ट्रेनर्स को प्रशिक्षण दिया जाएगा, जोकि अप्रैल माह में लगभग 2 हजार 188 प्रगणकों तथा 364 पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षण देंगे।
प्रशिक्षण के दौरान अधिकारियों को जनगणना-2021 के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रिया एवं कार्यप्रणाली के संबंध में विस्तार से बताया गया। जिला अधिकारियों को सेंसस मैनेजमेंट एंड मॉनिटरिंग सिस्टम (सीएमएमएस) पोर्टल पर जनगणना कर्मियों का पंजीकरण प्रशिक्षण बैचों का सृजन, मोबाइल मोड में आंकड़े एकत्रीकरण आदि का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में मानदेय आदि सभी भुगतान सीएमएमएस पोर्टल के माध्यम से पीएफएमएस की सहायता से किए जाएंगे।
हरियाणा राज्य में जनगणना-2021 के प्रथम चरण में मकान-सूचीकरण एवं मकानों की गणना का कार्य 1 मई 2020 से 15 जून 2020 के दौरान किया जाएगा। इस दौरान राष्टï्रीय जनसंख्या रजिस्टर का भी अपडेट किया जाएगा। द्वितीय चरण में जनसंख्या की गणना का कार्य 9 फरवरी 2021 से 28 फरवरी 2021 (रिविजनल राउंड 1 से 5 मार्च 2021) के दौरान किया जाएगा।पहली बार जनगणना डिजीटल मोड पर करवाई जा रही है, जहां प्रगणकों द्वारा विशेष रूप से डिजाइन किए गए मोबाइल ऐप पर आंकड़े एकत्रित किए जाएंगे। मोबाइल ऐप पर आंकड़े एकत्रित होने पर जनगणना आंकड़े समय पर जारी किए जा सकेंगे। जनगणना की सभी गतिविधियों और प्रगति को सीएमएमएस पोर्टल जोकि इस कार्य के लिए विकसित और डिजाइन किया गया है पर पर्यवेक्षित किया जा सकेगा। जनगणना-2021 गतिविधियों के क्रियान्वयन एवं राष्टï्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के अपडेट की प्रक्रिया एवं अनुवीक्षण में सीएमएमएस पोर्टल मुख्य भूमिका निभाने जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here