पलवल शुगर मिल की बढ़ेगी क्षमता, पहले चरण में 1900 टीसीडी से पिराई चालू : डा. बनवारी लाल

0
270

पलवल, 12 दिसंबर। हरियाणा के सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने कहा कि शुगर मिल पलवल की क्षमता दो चरणों में बढ़ाई जाएगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा वर्ष 2018 में की गई घोषणा के अनुरूप पहले चरण में इसकी क्षमता 1600 से 1900 टीसीडी हो चुकी है और अगले चरण में इसे 1900 टीसीडी से बढ़ाकर 2200 टीसीडी किया जाएगा। उन्होंने यह बात गुरूवार को दी पलवल सहकारी चीनी मिल्ज लिमिटेड के वर्ष 2019-20 के लिए पिराई सत्र का शुभारंभ करने के उपरांत क्षेत्र से आए किसानों को संबोधित करते हुए कही।डा. बनवारी लाल ने कहा कि शुगर मिल के संचालन में किसान, कर्मचारी व अधिकारी एक कड़ी के तौर पर होते हैं। जिनमें सबसे प्रमुख कड़ी किसानों की होती है। ऐसे में मिल प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिए जा चुके हैं कि किसानों को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं आनी चाहिए। साथ ही उन्होंने यह बात भी कही कि तीनों कड़ी आपस में एक सामंजस्य से काम करें तो यह पिराई सत्र अच्छा चलेगा। उन्होंने बताया कि पलवल शुगर मिल में रिकवरी पिछली बार 10.61 प्रतिशत रही है जोकि प्रशंसनीय है।उन्होंने किसानों से आग्रह करते हुए कहा कि मिल में अपना गन्ना अच्छी तरह साफ कर लाए। इस दौरान कर्मचारी संगठन की ओर से रखी गई मांग पर भी सहकारिता मंत्री ने सहानुभूति पूर्वक विचार करने का भरोसा दिया। कार्यक्रम के उपरांत मीडियाकर्मियों से बातचीत में उन्होंने बताया कि राज्य सरकार सभी शुगर मिल में एथनाल प्लांट लगाने व मिल से निकलने वाले अपशिष्ट से ऊर्जा तैयार करने के कार्यक्रमों पर भी विचार कर रही है। पलवल से विधायक दीपक मंगला ने वर्ष 2019-20 के पिराई सत्र शुभारंभ कार्यक्रम में पहुंचने पर सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पलवल की शुगर मिल से उनका पुराना लगाव रहा है। यहां आकर एक अपनापन महसूस होता है। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान कार्यक्रम एवं मुख्य अतिथि एवं सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल के संज्ञान में क्षेत्र के किसानों की विभिन्न मांगों व सडक़ों की हालत में सुधार की बात रखी। हथीन से विधायक प्रवीण डागर ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की पहल पर पलवल की शुगर मिल इस बार बढ़ी हुई क्षमता से काम करेगी। जिसका क्षेत्र के किसानों को भी लाभ मिलेगा। उन्होंने कार्यक्रम में पहुंचे क्षेत्र के किसानों से भी अपील करते हुए कहा कि मिल में लेकर आने वाले गन्ने को अच्छी प्रकार से साफ करके लाए ताकि मिल अपनी क्षमता पर काम करती रहे। जिससे किसानों को भी भुगतान मिलने पर किसी प्रकार की परेशानी न हो।दी पलवल सहकारी चीनी मिल्ज लिमिटेड के अध्यक्ष एवं उपायुक्त यशपाल ने कार्यक्रम में पहुंचे मुख्य अतिथि व अन्य अतिथिगण का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि वे दी सहकारी चीनी मिल पलवल में बतौर प्रबंध निदेशक रह चुके हैं और उनकी इस परिसर से अच्छी यादें जुडी हुई हैं। उन्होंने कहा कि हम पुन: एक नए सत्र की शुरुआत कर रहें हैं ऐसे में मिल प्रबंधन व राज्य सरकार का प्रयास रहेगा कि किसानों को किसी प्रकार की कमी न हो। वहीं कार्यक्रम के उपरांत एमडी शुगर मिल जितेंद्र सिंह ने कार्यक्रम में पहुंचे अतिथिगणों व किसानों का आभार जताया साथ ही मुख्य अतिथि व विशिष्ठ अतिथियों को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया।सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने पिराई सत्र शुभारंभ अवसर यज्ञ में आहूति डाली, मिल में गन्ना लेकर पहुंचे किसानों की बैलगाड़ी-ट्रैक्ट्रर ट्राली का पूजन करते हुए मंगल चिंह बनाते हुए अभिषेक किया और मिल में पिराई के लिए लगी बेल्ट पर गन्ने भी चढ़ाए।इस अवसर पर भाजपा के जिला अध्यक्ष जवाहर सिंह सोरोत, पशुधन विकास बोर्ड हरियाणा के उपाध्यक्ष मेहरचंद गहलोत, पूर्व विधायक सुभाष चौधरी, राजेंद्र बीसला, रामरत्न, विधायक नयनपाल रावत के भाई यशपाल रावत, शुगर मिल के उपाध्यक्ष देवी चरण मंगला, मुकेश सिंगला, गयालाल, शुगर मिल पलवल के निदेशक मण्डल के सदस्य उदय चंद, गीता देवी, प्रभु दयाल, बाबू राम, भावना, भीम सिंह, भूपेंद्र सिंह, रमेश चंद्र, सचेंद्र सिंह, समुंद्र सिंह, सोरन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। जिला प्रशासन की ओर से होडल के एसडीएम वत्सल वशिष्ठ, पलवल के एसडीएम जितेंद्र कुमार के अतिरिक्त देवेंद्र सिंह बैनीवाल एआरसीएस सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here