ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री होंगे बोरिस जॉनसन

0
359

 

लंदन: ब्रिटेन को बोरिस जॉनसन के रूप में अपना नया प्रधानमंत्री मिल गया है। लंदन के पूर्व मेयर और यूके के पूर्व विदेश मंत्री जॉनसन कंजर्वेटिव पार्टी के नेता चुने गए। उन्हें 92,153 (66 प्रतिशत) वोट मिले जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी जेरमी हंट को सिर्फ 46,656 वोट मिले। कंजर्वेटिव पार्टी के कुल 1,59,320 सदस्यों में से 87.4 प्रतिशत ने वोट डाला था। 509 वोट खारिज कर दिए गए।55 साल के बोरिस जॉनसन ब्रेग्जिट के प्रबल समर्थक हैं और उन्होंने इसके पक्ष में जमकर अभियान चलाया था। कंजर्वेटिव पार्टी का नया नेता चुने जाने के बाद उन्होंने 31 अक्टूबर तक ईयू से यूके के अलग होने की (ब्रेग्जिट) प्रक्रिया को पूरी करने की प्रतिबद्धता जताई है। मौजूदा प्रधानमंत्री टरीजा मे अब क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय को अपना इस्तीफा भेजने से पहले हाउस ऑफ कॉमंस में बतौर प्रधानमंत्री आखिरी बार सवालों का सामना करेंगी। मे ने पिछले महीने ब्रेग्जिट मुद्दे पर पार्टी में विद्रोह के बाद इस्तीफे का ऐलान किया था। वह ब्रेग्जिट को लेकर यूरोपीय संघ से हुए समझौते को ब्रिटिश संसद में पास नहीं करा पाईं।
बोरिस जॉनसन ऐसे वक्त में ब्रिटेन की सत्ता संभालने जा रहे हैं, जब ब्रेग्जिट को लेकर अनिश्चितता का माहौल है। उनके सत्ता संभालने से पहले ही उन्हें पार्टी में विद्रोह का सामना करना पड़ा है। चांसलर फिलिप हैमंड समेत कई प्रमुख कैबिनेट मंत्री पहले ही यह कह चुके हैं कि जॉनसन के नेतृत्व में काम करने से बेहतर है कि वे इस्तीफा दे देंगे।
भारतीय मूल की थीं पहली पत्नी
जॉनसन का भारत के साथ भी खास कनेक्शन है। उनकी पहली पत्नी मरीना व्हीलर का संबंध भारत से है। मरीना की मां एक भारतीय मूल के सिख परिवार से ताल्लुक रखती थीं। मरीना के साथ 25 साल की वैवाहिक जिंदगी में जॉनसन ने कई बार भारत की यात्रा की। लंदन मेयर के चुनाव प्रचार के दौरान वह भारतीय समुदाय के बीच खुद को भारत का दामाद भी कहते थे।

प्रधानमंत्री बनने से कुछ महीने पहले जॉनसन का अपनी महिला मित्र से विवाद सुर्खियों में छाया रहा। जॉनसन और उनकी महिला मित्र के बीच आवास पर जोर से लड़ने-झगड़ने की आवाज सुनकर कुछ लोगों ने पुलिस को फोन किया था। महिला मित्र साइमंड्स से संबंध सामने आने के बाद ज़नसन का अपनी पूर्व पत्नी से तलाक हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here