पुलिस की नाकामी के खिलाफ बजरंग फोर्स लेगा एक्शन

0
310

 

फरीदाबाद। एनसीआर में बढते अपराधों को रोकने में नाकाम पुलिस से आमजन खफा हैंतो अपराधी बेखौफ हैं। पलवलफरीदाबाद और मेवात जिलों में बढतेअपराधों पर पुलिस अंकुश नहीं लगा रही हैं जिससे पीडित परिजन परेशान हैं। उनकी नाराजगी इस कदर बढ रही है कि अब लोग पुलिस के नाकारा और भ्रष्टअधिकारियों को सबक सिखाने के लिए सडक पर उतरने को तैयार हैं। उनको न्याय दिलाने के लिए फरीदाबाद विकास परिषद के तत्वाधान में गौरक्षा बजरंग फोर्सके पदाधिकारियों ने अब कमर कस ली हैं।

यहां प्रैस को संबोधित करते हुए परिषद के अध्यक्ष तरूण अरोडा ने बताया कि उनको बहुत दुख हो रहा है यह बताते हुए कि फरीदाबाद की पुलिस की नाकामी इसकदर बढ गई है कि वह गरीब और बेसहारा लोगों को न्याय नहीं दिला रहे। पुलिस केवल राजनैतिक और अमीर घरानों की चाकारी कर रही है। उन्होने बतायापलवल और मेवात जिलों की पुलिस की तो कार्यशैली और भी ज्यादा खराब है। तरूण ने बताया उनके पास पलवलफरीदाबाद और मेवात जिलों में बढते अपराधोंके दर्जनों ऐसे मामले आए हैं जिनमें फरियादी कई महिनों से दरदर की ठोकरें खा रहे हैं मगर पुलिस ने मामले तक दर्ज नहीं किए। उन्होने बताया अब हम चुप नहींबैठेंगे  और ऐसे मामलों में गौरक्षा बजरंग फोर्स और परिषद के पदाधिकारी मिलकर आंदोलन करेंगे।

गौरक्षा बजरंग फोर्स के अध्यक्ष बिट्टू बजरंगी ने बताया पुनहाना तहसील के गांव बिछौर में गत् 8 अप्रैल 2019 को 62 वर्षीय रामजीलाल पुत्र कन्हैया की उसके हीखेत में अज्ञात लोगों ने हत्या करके लाश को जलाने की कोशिश की थी। अगले दिन मृतक के परिजनों को अधजली लाश मिली पुलिस ने इस मामले में किसीव्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया। मृतक के पुत्र मुके  ने बताया पुलिस उनको धमका कर भगा देती है। थानेदार और मामले की जांच कर रहे अधिकारीउलटे उसे ही परेशान करते हैं।

तरूण अरोडा ने बताया थाना मुजेसर क्षेत्र की संजय कॉलोनी से नाबालिग लडकी ज्योति का 5 मई 19 को अपहरण कर लिया गया। परिजनों ने हारून इकबाल औरइमरान पर शक जाहिर किया। पुलिस ने मामला तो दर्ज किया मगर कोई संतोषजनक कार्यवाही नहीं की। इसी प्रकार गांव नेकपुर की कल्पना 32 वर्षीय को उसकेजीजा  भाई प्रताडित कर रहे हैं। पीडिता का आरोप है कि उसके रिश्तेदारों ने उससे साढे 6 लाख नकद और आभूषण जमीन दिलाने के नाम पर ठग लिए। जबपीडिता ने जमीन मांगी तो उसे पहले गांव में ही 27गज का प्लॉट में एक कमरा बनाकर दे दिया और बाद उसे मार पीटकर मकान से बाहर कर दिया। इस मामले कीशिकायत सिकरौना चौकीथाना धौज और अन्य आला अधिकारियों को की मगर कोई कार्यवाही नहीं हुई और पीडित महिला अब बेघर है। उपरोक्त संस्थाओं केपदाधिकारियों ने बताया हरियाणा की सरकार बेटी बचाओ बेटी पढाओ जैसे नारे तो देती है मगर उनका महत्व नहीं समझती। सरकार की ही तरह हरियाणा पुलिससेवासुरक्षा सहयोग का नारा देती है मगर गरीबों और मजलूमों को खुद सताती है। ऐेसे जनता न्याय की फरियाद कहां करे। उन्होने कहा अब वह संस्था के माध्यमसे ऐसे नाकारा पुलिस अधिकारियों के खिलाफ आंदोलन चलाकर गरीब जनता की लडाई लडेंगे।

इस अवसर पर फरीदाबाद विकास परिषद के चेयरमैन महेन्द्र सिंहहविन्द्र सिंहओम प्रकाश शर्मानंद किशोर शर्मासुनील भारद्वाजराजू कुमाररवि कुमार,एडवोकेट धमेन्द्र कुमारवासदेव आर्यराजेश आर्य सहित अनेक लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here