हेपेटाइटिस “ए” व “बी” के लिए नीमका जेल में चलाया गया जागरूकता अभियान

0
105

फरीदाबाद, । बुधवार को विश्व हैपेटाईटिस दिवस के अवसर पर स्थानीय नीमका जेल में फाइन्ड इंडिया के सहयोग से हैपेटाईटिस बी व सी के लिए एक जागरूकता एवं स्क्रीनिंग शिविर का आयोजन किया गया।
जिला जेल के सभी बन्दियों को हैपेटाईटिस की रोकथाम और प्रबंधन के बारे में जागरूक किया गया। शिविर का उद्घाटन सिविल सर्जन डाँ रणदीप सिंह पुनिया ने डॉ विनय गुप्ता, प्रधान चिकित्सा अधिकारी , जिला निगरानी अधिकारी डॉ राम भगत और जिला नोडल अधिकारी डॉ योगेश गुप्ता की उपस्थिति में किया गया।
डॉ संजय सरीन, निदेशक-कन्ट्री प्रोग्राम फाइन्ड इंडिया ने कहा कि हम कार्यक्रम को बिना शर्त समर्थन देने के लिए जेल अधीक्षक जय किशन छिल्लर और सिविल सर्जन फरीदाबाद के प्रति अपनी क्रतज्ञता व्यक्त करते हैं। उन्होंने फरीदाबाद जेल के सभी बन्दियों की तीव्र जांच और उपचार की पहल करते हुए वर्ष के लिये हैपकैन्ट वैट/ “HepCan’t wait” थीम का पूर्ण अनुपालन दिखाया है।
डॉ कनूदीप, प्रोजेक्ट कोऑर्डनैटर- एचसीवी /HCV प्रोग्राम , फाइन्ड इंडिया ने कहा की फाइन्ड इंडिया ने फरीदाबाद जेल के सभी बन्दियों की स्क्रीनिंग करने में सहायता की है। सभी पाज़िटिव बन्दियों की वाइरल लोड रिपोर्ट को जेल मेडिकल टीम के साथ सांझा की गया है और सप्ताह के अंत तक सभी एचसीवी HCV पाज़िटिव कैदियों का ईलाज शुरू किया जायेगा।
सिविल सर्जन डॉ रणदीप सिंह पूनिया ने अपने सम्बोधन मे कहा की स्वास्थय विभाग की तरफ से जेल के बन्दियों को सभी सुविधाएं देने के लिये सभी चिकित्सा अधिकारियों ने निर्देश दिये हुए है तथा उन्होंने हैपेटाईटिस की दवाइओ भी जेल मे मुफ़्त मे भिजवा दी है। उन्होंने कहा कि ये दवाइयाँ लगातार तीन माह तक लेने से हेपटाइटिस पूर्ण रूप से ठीक हो जाता है। डॉ० योगेश गुप्ता ने प्रोजेक्टर पर सभी बन्दियों को हैपेटाईटिस के प्रति जागरूक करते हुए उन्हें इस बीमारी के बारे में विस्तार से बताया कि उनके क्या लक्षण हैं, क्या सावधानियाँ रखनी चाहियाँ तथा ईलाज केसे लें तथा जेल से रिहा होने पर भी केसे अपना ईलाज जारी रखा जाए।
सिविल सर्जन डाँ रणदीप सिंह पुनिया ने डॉ मयंक पाराशर जेल मेडिकल ऑफिसर, डॉ वरुण शर्मा जेल मेडिकल ऑफिसर, राम चंद्र उप अधीक्षक, अनिल कुमार उप-अधीक्षक, मुकेश शर्मा लैब टेकनीकल ऑफिसर, सुभाष वैद फार्मसी ऑफिसर एवं नगेन्द्र सिंह यादव वॉर्डन सहित अन्य जेल कर्मचारियों/कैदियों को प्रशंसा पत्र प्रदान किया। जिनके द्वारा जेल में स्क्रीनिंग कैम्प को अंजाम देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।
जेल अधीक्षक जय किशन छिल्लर ने डॉ० रणदीप सिंह पुनिया सिविल,श सर्जन, डॉ विनय गुप्ता, प्रधान चिकित्सा अधिकारी, जिला निगरानी अधिकारी डॉ राम भगत और जिला नोडल अधिकारी और डॉ योगेश गुप्ता एवं डॉ कनूदीप, प्रोजेक्ट कोऑर्डनैटर-एचसीवी/ HCV प्रोग्राम , फाइन्ड इंडिया का स्वागत किया। उन्होंने जेल के बन्दियों को सभी महत्त्वपूर्ण जरूरी जानकारी देने के लिए उनका धन्यवाद किया। जेल अधीक्षक जय किशन छिल्लर ने कहा कि कैदियों को हैपेटाईटिस के बारे में जागरूक होना बहुत जरूरी है और हमने यह सुनिश्चित किया है कि सभी एचसीवी/ HCV पाज़िटिव कैदियों का इलाज जल्द से जल्द शुरू किया जाए। सिविल अस्पताल से सभी आवश्यक दवाइयाँ प्राप्त कर ली गई हैं और जिला चिकित्सा अधिकारी संक्रमित कैदियों के इलाज के लिये जिला चिकित्सा विशेषज्ञ के लगातार संपर्क में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here