पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग द्वारा जिला के गांव धतीर में एक दिवसीय जिला स्तरीय पशु प्रदर्शनी का किया गया आयोजन ।

0
5

पलवल।पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग द्वारा जिला के गांव धतीर के राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय परिसर में एक दिवसीय जिला स्तरीय पशु प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष मेहरचंद गहलोत ने पशुपालकों को संबोधित करते हुए कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों की आय को दोगुणा करने का संकल्प लिया है। किसान कृषि कार्यो के साथ पशुपालन का कार्य भी करें। पशुपालन के कार्य से किसानों की आर्थिक आय में बढोîारी होगी। उन्होंने कहा कि पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग हरियाणा द्वारा किसानों के लिए अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं बनाई है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में दुधारू गाय व भैसों की डेयरी खोलने पर अनुदान दिया जा रहा है। हरियाणा पशुपालन विभाग की सभी योजनाएं अब सरल हरियाणा पोर्टल पर उपलद्ब्रध हैं। पोर्टल पर जाकर पशुपालक योजनाओं का लाभ उठा सकते है। पशुपालन करने से बेरोजगारी की समस्या को दूर किया जा सकता है।
उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में इस तरह की पशु प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा ताकि पशुपालन के बारे में लोगों को जागरूक किया जा सके। उन्होंने पशुपालकों का आह्वïान करते हुए कहा कि पशुपालक अपने प्रत्येक पशु का बीमा अवश्य कराएं। इस पशु प्रदर्शनी में लगभग 220 पशुपालकों ने पंजीकरण कराया। पशु प्रदर्शनी में मुर्राह भैंस, झोटा, झोटी, देसी गाय, साहीवाल (दुग्ध व शुष्क अवस्था) संकर नस्ल गाय, गौशाला की देशी गाय, घोडे, उच्च नस्लीय भेड़, बकरी एवं सुकर प्रजाति के पशुओं ने भाग लिया।
उपायुक्त यशपाल ने कहा कि पशुपालन एक मुनाफे का कार्य है। वर्तमान में गाय व भैस की उन्नत किस्म की नस्लें आ रही है, जिनसे दुग्ध की मात्रा को बढाया जा सकता है। पशुपालकों को ऐसी नस्लों का लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पशुपालन के प्रति किसानों को जागरूक होना जरूरी है। हरियाणा सरकार ने पशुपालकों के लिए अनेक योजनाएं बनाई है। सभी योजनाओं पर अनुदान दिया जा रहा है। उपायुक्त ने कहा कि कृषि कार्य करने के साथ ही किसान पशुपालन को भी अपनाएं। उच्च कोटी के पशु पशुपालकों को क्चयाति दिलाने का कार्य करते है।
इस अवसर पर वाईस चेयरमैन मेहरचंद गहलोत व जिला उपायुक्त यशपाल ने उच्चकोटी के पशुपालकों को इनामी राशि के तौर पर प्रथम विजेता को 3100 रुपये, द्वितीय विजेता को 2100 रुपये व तृतीय को 1100 रुपये एवं सांत्वना पुरूस्कार के तौर पर 500 रुपये की राशि वितरित की। इस मौके पर पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग की उप निदेशक नीलक आर्य सहित अन्य अधिकारीग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here