अमेरिका-चीन के ट्रेड वॉर ने बढ़ाया शेयर बाजार पर दबाव

0
384

मुंबई :चीन के अन्य 300 अरब डॉलर के सामानों पर नया टैरिफ लगाने की अमेरिका की घोषणा के बाद वैश्विक बाजारों में बिकवाली जोरों पर है। इस बिकवाली के बीच हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन यानी शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार भी लाल है। शुरुआती कारोबार में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 300 अंक से ज्यादा टूट गया। कारोबारियों ने कहा कि विदेशी निवेशकों की जारी बिकवाली के बीच अमेरिका और चीन के व्यापारिक तनाव बढ़ने से बाजार के सेंटिमेंट पर असर पड़ा है।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के शुरुआती घंटे के दौरान 350 से ज्यादा लुढ़क गया था। इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 100 अंकों से ज्यादा गिर गया था। हालांकि, थोड़ी देर बादा बाजार में रिकवरी होने लगी लेकिन कारोबार लाल निशान पर ही हो रहा है। दोपहर 12: 30 पर सेंसेक्स 72 अंक नीचे 36945 के स्तर पर था और निफ्टी 25 अंक नीचे 10,955 पर।

 

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने चीन के 300 अरब डॉलर के सामानों पर 10 फीसदी अतिरिक्त शुल्क लगाने की बृहस्पतिवार को घोषणा की थी। इसका असर दुनियाभर के बाजारों पर देखने को मिल रहा है। एशियाई बाजारों में जापान का निक्की, चीन का शंघाई कंपोजिट, हॉन्गकॉन्ग का हैंग सेंग और दक्षिण कोरिया का कोस्पी कारोबार के दौरान गिरावट में चल रहा था।

गुरुवार को वॉल स्ट्रीट लाल निशान में चला गया, कच्चे तेल में भारी गिरावट देखने को मिली और अमेरिका के सरकारी बॉन्ड्स से मिलने वाला डिविडेंड गिर गया। इससे पहले फेडरल रिजर्व द्वारा बुधवार को एक दशक से भी अधिक समय में पहली बार ब्याज दर घटाने के बाद बाजार पहले ही दबाव में था। ट्रंप की घोषणा ने निवेशकों की परेशानी और बढ़ा दी। ज्यादातर अमेरिकी इंडेक्सेस गुरुवार को कारोबार के दौरान एक पर्सेंट से ज्यादा तेजी में चल रहे थे। ट्रंप के ट्वीट के बाद स्थिति ठीक उलट हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here