उपायुक्त अतुल द्विवेदी के दिशा निर्देशानुसार जिला के ग्रामीण क्षेत्र में स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम श्रंखला का किया जाएगा आयोजन|

0
280

फरीदाबाद। उपायुक्त अतुल द्विवेदी के दिशा निर्देशानुसार जिला के ग्रामीण क्षेत्र में 11 सितंबर से 27 अक्टूबर तक स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम श्रंखला का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में आम जन को भागीदारी के साथ जन आन्दोलन स्वच्छता ही सेवा समारोह आयोजित करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए आवाहन पर जनजागरण के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।
यह जानकारी अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेंद्र सिंह ने दी। उन्होंने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि सरकार के दिशा निर्देशानुसार 11 सितंबर को स्वामी विवेकानंद के शिकागो में विश्व धर्म संसद में दिए गए ऐतिहासिक भाषण की स्मृति तिथि पर जिला में स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी। इस कार्यक्रम का समापन आगामी 27 अक्टूबर को दीपावली के दिन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिला में यह अभियान 3 चरणों में चला जाएगा। पहला चरण 11 सितंबर से 1 अक्टूबर तक, द्वितीय चरण 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर जन आंदोलन के रूप में श्रमदान के तहत ग्रामीण क्षेत्र में लोगों की सहभागिता से किया जाएगा। तीसरा चरण 3 से 27 अक्टूबर तक चलाया जाएगा। स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम में लोगों में जागरूकता की गतिविधियां चलाई जाएंगी।
उन्होंने बताया कि जिला के सभी गांव में प्लास्टिक कचरे के संग्रह के लिए साइटों की पहचान की जाएगी। प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन के लिए जागरूकता रैलिया निकाली जाएंगी। प्लास्टिक बैग के स्थान पर जूट बैग बदलने के लिए भी लोगों को जागरूक करके प्रेरित किया जाएगा। ग्राम पंचायतों द्वारा एक बार प्रयोग होने वाले प्लास्टिक पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाया जाएगा। उन्होंने आगे बताया कि बर्तन भंडार/ बाजार को प्लास्टिक प्लेट, कप, ग्लास आदि बचने के लिए बढ़ावा दिया जाएगा । प्लास्टिक कचरा प्रबंधन के लिए कचरा बीनने वालों की भी भागीदारी आन्दोलन में ली जाएगी। स्वयं सहायता समूह को कपड़े के बैग बनाने के लिए बढ़ावा दिया जाएगा । स्कूलों में स्वच्छता रैली व स्वच्छता शपथ व अन्य सामाजिक जागरूकता गतिविधियां आयोजित की जाएंगी ।
उन्होंने बताया कि प्रत्येक माह हरेक ग्राम पंचायत में एक दिन प्लास्टिक फ्री दिवस मनाया जाएगा। ग्राम पंचायतों में प्लास्टिक कलेक्शन के गड्ढों का निर्माण करवाया जाएगा ।अंत में 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर श्रमदान के माध्यम से प्लास्टिक के कचरे को पूर्ण रूप से हटाया जाएगा। अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि 3 से 27 अक्टूबर तक एकत्रित प्लास्टिक कचरे का पुनर्चक्रण/ निपटान, एक प्लास्टिक मुक्त दीपावली की ओर लोगों को प्रेरित किया जाएगा ।
अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम में ग्राम पंचायत, शिक्षा, चिकित्सा, सहित अन्य विभागों का सहयोग लेकर ग्रामीण क्षेत्र में जागरूकता रैली निकाल कर लोगों को प्रेरित किया जाएगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here