धरने पर बैठे किसानों को बलजीत कौशिक के द्रवारा बांटी गई 500 गर्म जैकेट

0
4

पलवल। पलवल के केजीपी-केएमपी चौक के निकट नेशनल हाईवे पर चल रहे किसानों के धरने में जहां लोगों की भीड बढ़ती जा रही है वहीं कडकती ठंड में धरना पर बैठे किसानों सर्दी से राहत दिलाने के लिए दान दाताओं की भी होड सी लगी है। इसी कडी में आज हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रदेशाघ्यक्ष कुमारी सैलजा के दिशा-निर्देश पर फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक आनंद कौशिक के भाई एवं कांग्रेस के प्रदेश महासचिव बलजीत कौशिक भी किसानों के लिए 500 गर्म जैकेट व कोरोना बचाव के लिए 500 मॉस्क लेकर धरना स्थल पर पहुंचे। आज कडाके की ठंड में उन्होंने स्वयं अपने हाथों से किसानों को जैकेक पहनाकर अपने समर्थन व सहयोग का ऐलान किया। इस दौरान आंदोलनरत किसानों को संबोधित करते हुए कांग्रेस के प्रदेश महासचिव बलजीत कौशिक ने कहा कि न्याय व अन्याय की इस लडाई में कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खडी है। उन्होंने कहा कि सवा महिने से किसानों धरना चल रहा है और अन्नदाता परेशान है तथा सरकार किसानों के बातचीत पर तारिख पर तारीख बढाती जा रही है जिससे यह साबित होता है की मोदी सरकार किसान हितेषी नहीं है। उन्होंने सरकार से कृषि कानून वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि सरकार की तीनों कृषि कानून तुरंत प्रभाव से रद्द करने चाहियें और एमएसपी पर कानून बनाना चाहिए तभी किसान अपने घरों को जायेंगे जो सबका पेट भरता है आज आज वो अपने हकों के लिए सडकों पर है। किसान कोई भीख नहीं मांग रहा अपना हक मांग रहे हैं और कडाके की ठण्ड में एक महीने से सडकों पर बैठें हैं और सरकार उनकी सुनवाई नहीं कर रही है। आज सरकार किसानों को जितना परेशान करेगी तो आने वाले चुनावों में भाजपा सरकार को भी इसका खामियाजा भुगतना पडेगा। बलजीत कौशिक ने कहा कि भीषण ठंड के साथ बारिश के बीच भी पलवल में हजारों की संख्या में किसान मजबूती से डटे हुए हैं। किसानों पर तरह-तरह के अत्याचार इस सरकार के द्वारा किए गए, लेकिन किसानों ने अपना संयम नहीं खोया। किसानों का यह संघर्ष व्यर्थ नहीं जाएगा। सरकार को किसानों के सामने झुकना ही होगा। सरकार को यह काले कानून निरस्त करने ही होंगे और न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी का कानून बनाना ही होगा। उन्होनें कहा कि मुख्य विपक्षी पार्टी होने के नाते कांग्रेस पार्टी का कर्तव्य बनता है कि वह सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाए। कांग्रेस पार्टी सरकार के इन कृषि विरोधी काले कानूनों के खिलाफ हर स्तर पर लड़ाई लड़ रही है। कांग्रेस पार्टी इस लड़ाई में किसान और मजदूरों के साथ मजबूती से खड़ी है। कांग्रेस पार्टी का एक-एक सदस्य किसानों के साथ है। इस अवसर पर जय भगवान भरद्धाज, भगतराम शर्मा, रंधावा फागना, बब्लू चौधरी, अश्विनी कौशिक आदि भी मुख्यरूप से मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here