हरियाणा के मुख्यमंत्री ने गुरूग्राम में बने आइसोलेशन सेंटर का किया निरीक्षण

0
246

गुरुग्राम ,मुकेश कुमार

गुरुग्राम 16 मार्च। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर सरकार बेहद गंभीर है। इस बीमारी की रोकथाम के लिए विभिन्न पहलुओं पर कार्य किया जा रहा है। हरियाणा में इस वायरस से बचाव को लेकर 6500 बेड्स का प्रावधान किया जाएगा तथा 1300 आइसोलेटेड वार्ड तैयार रखे गए हैं। मुख्यमंत्री सोमवार को गुरुग्राम सेक्टर 9 स्थित राजकीय महाविद्यालय में कोरोना  वायरस को लेकर बनाए गए आइसोलेटेड वार्डस का निरीक्षण करते हुए मीडिया प्रतिनिधियों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस इस समय एक विश्वव्यापी बीमारी के रूप में फैला हुआ है और राज्य में इस वायरस की रोकथाम को लेकर पूरी तैयारी की गई है। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में इस बीमारी को लेकर कोई गंभीर मामला अभी तक सामने नहीं आया है , वहीं गुरुग्राम के निजी अस्पतालो में जो भी मामले सामने आए हैं, वे सभी विदेश से आएं हैं और उन्हें ऑब्जरवेशन के लिए रखा गया है। उन्होंने बताया कि विदेश में यात्रा करने वालो में इस बीमारी के लक्षण ज्यादा देखने को मिल रहे है, वहीं ऐसे में उन सभी को 15 दिन के लिए ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा जिसके बाद उनकी जांच की जाएगी व रिपोर्ट के आधार पर उनको छुट्टी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आईटीबीपी परिसर में भी 46 ऐसे मरीजों को रखा गया था, उन्हें भी रिपोर्ट के आधार पर अब छुट्टी दे दी गई है। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश कोरोना वायरस को लेकर बेहद गंभीर है व इसके चलते 200 से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदी लगाई गई है। कोई भी अब सामाजिक, धार्मिक, खेल गतिविधियां, राजनीतिक व पारिवारिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं कर सकता, जिसमें 200 से अधिक व्यक्ति एकत्रित होने की संभावना हों। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 31 मार्च तक सभी विद्यालय बंद रहेंगे, केवल परीक्षा देने वाले परीक्षार्थी ही जाएंगे। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में सभी  कॉलेज, सिनेमा हॉल आदि जगहों पर जाने पर रोक लगाई गई है। मुख्यमंत्री ने सभी से आहवान किया कि वे अपने आस पास स्वच्छता को बनाए रखें व किसी भी वस्तु को छूने से पहले अपने हाथों को सही तरह से साफ कर लें । उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर घबराने की आवश्यकता नहीं है, सभी जगहों पर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here