सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता-2 की सुपर सफलता

0
932

 

पलवल। उपायुक्त डा. मनीराम शर्मा ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से गांवों के विकास में सहभागिता बढ़ाने व ग्राम पंचायतों के बीच विकास कार्यों के लिए प्रतिस्पर्धा लाने के उद्देश्य से सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता भाग-2 को अक्टूबर माह में सुपर सफलता मिली है। जहां कुल 115 ग्राम पंचायतों ने 4500 से ज्यादा पैरामीटर्स पर डिक्लेरेशन किया। इतने कम समय में इतना बड़ा लक्ष्य हासिल करने के लिए जिला प्रशासन पलवल ने सभी संबंधित सरपंचों को बधाई दी है। उन्होंने बताया कि नवंबर माह में 175 ग्राम पंचायतों और 7500 परमीटर्स का लक्ष्य है। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि पंचायतें नवंबर माह में भी उक्त लक्ष्यों को निश्चित रूप से प्राप्त कर लेंगी।मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी जीशान खान ने विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि जिला प्रशासन पलवल ने विजयी विभिन्न ग्राम पंचायतों में सर्वश्रेष्ठï पांच पंचायतें नंगला भीखू, पारोली, अमरोली, गोपालगढ़ व गढी विनोदा, हसनपर ब्लॉक की अमरोली, रामगढ, भैंडोली, सहदेव का नंगला व माहौली की पंचायत, खंड हथीन की गढी विनोदा, जैनपुर, जनाचौली, कौंडल व बिचपुरी की पंचायत, खंड होडल की गोपालगढ, सीहा, लाडियाका, भिडूकी व गुदराना की पंचायत, खंड पलवल की पारोली, लालवा, कारना, लालपुर कदीम व जैंदापुर की पंचायत तथा खंड पृथला की नंगला भीखू, जलाहका, भुर्जा, खजूरका व अमरपुर की पंचायतें शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि प्रतियोगिता में मापदंड के आधार पर अंक दिए जाते हैं, जिसमें खुले में शौच मुक्त, आंगनवाडी, स्कूल व घर में शौचालय का प्रयोग करने व साफ-सफाई, गांवों में पानी के ठहराव न हो, सोख्ता गढ्ढïे, नालियों की व्यवस्था, जल निकासी व्यवस्था, तालाबो की सफाई, कचरा निपटान ठोस व तरल कचरा प्रबंधन, पॉलीथिन का प्रयोग न करने, पॉलीथिन मुक्त सडक़े व दुकाने, सामूहिक जगहों पर कूडेदानों, कूडा-खाद की सुविधाएं, कचरा संग्रहण प्रणाली का प्रयोग करने पर अंक दिए जाते हैं। इसी प्रकार स्वास्थ्य से संबंधित प्रसव पूर्व पर्याप्त जांच, गर्भवती महिलाओं का प्रारंभिक पंजीकरण, गर्भावस्था के दौरान सामान्य से गंभीर एनीमिया, गर्भावस्था में उच्च रक्तचाप, संस्थागत प्रसव, मातृ मृत्यु दर, वित्तीय समावेशन, मातृ स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य, टीकाकरण, नवजात मृत्यु दर, ग्राम स्वास्थ्य वीएचएनडी व एएनसी क्लिनिक में सरपंच की भागीदारी, पल्स पोलियो, पीने का पानी, मच्छर प्रजन्न मुक्त पर्यावरण शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here