विजय माल्या से कर्ज वसूली पर वित्त मंत्रालय की दो एजेंसियों ने विरोधाभासी नोटिफिकेशन जारी किए

0
576

बेंगलुरु: कारोबारी विजय माल्या से कर्ज वसूली पर वित्त मंत्रालय की दो एजेंसियों ने विरोधाभासी नोटिफिकेशन जारी किए हैं। मंत्रालय जहां माल्या की कंपनी के शेयर बेचकर कर्ज वसूली की कोशिश में जुटी है, वहीं इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने लोगों को शेयर खरीदने को लेकर चेतावनी जारी की है।

29 सितंबर को बेंगलुरु की डेट रिकवरी ट्राइब्यूनल-II (डीआरटी) ने यूनाइटेड रेसिंग ऐंड ब्लडस्टॉक ब्रीडर्स लि. (URBBL) में माल्या के 41 लाख 52 हजार, 271 शेयरों की नीलामी की अधिसूचना जारी की। हालांकि, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने गुरुवार को आमलोगों को चेतावनी जारी कर दी। डिपार्टमेंट के नोटिफिकेशन में कहा गया है, ‘…ऐसे शेयर्स खरीदनेवाले अपनी रिस्क पर ही निवेश करेंगे।’ डिपार्टमेंट ने यह भी कहा कि इन शेयरों की बिक्री व्यर्थ है। गौरतलब है कि शेयरों की बिक्री 30 अक्टूबर को होनी है।

डीआरटी नोटिफिकेशन के मुताबिक, ‘एसबीआई एवं अन्य बनाम किंगफिशर एयरलाइंस एवं अन्य के मामले में 6,203 करोड़ रुपये, लागत के साथ-साथ जून 2013 से सालाना 11.50 प्रतिशत के ब्याज की वसूली के लिए 21 फरवरी 2017 को एक सर्टिफिकेट जारी किया गया है।’ यूआरबीबीएल के शेयरों की बिक्री इसी वसूली प्रक्रिया का एक हिस्सा है।

नोटिफिकेशन में कहा गया है, ‘24.52 करोड़ रुपये के रिजर्व प्राइस पर सभी शेयरों की एकमुश्त बिक्री होगी।’ इसका मतलब है कि 41.52 लाख शेयरों में प्रति शेयर की कीमत 59.07 रुपये होगी। डीआरटी ने कहा है कि अगर ऑनलाइन नीलामी (ई-ऑक्शन) असफल रहा तो 31 अक्टूकबर को मैन्युअल ऑक्शन होगा।

इसके उलट, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कहा, ‘इनकम टैक्स डिपार्टमेंट बकाया टैक्स के मद्देनजर शेयरों की बिक्री पर पहले ही चेतावनी दे चुका है। इसलिए, इन शेयरों की बिक्री इस तरह की बिक्री या इन शेयरों का हस्तांतरण (ट्रांसफर) उचित नहीं होगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here