मेरे दिल में कोई कड़वाहट नहीं : न्यायाधीश ब्रेट कावानाह

0
540

वॉशिंगटन :अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के नए न्यायाधीश ब्रेट कावानाह का कहना है कि नियुक्ति की पुष्टि से पहले के घटनाक्रमों को लेकर उनके दिल में कोई ‘कड़वाहट नहीं’ है और वह देश के अन्य न्यायाधीशों के साथ मिलजुल कर काम करेंगे। सप्ताह के आखिर में सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश बनने के बाद कल वाइट हाउस में आयोजित एक कार्यक्रम में कावानाह ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट नौ लोगों की टीम है और मैं इस टीम के साथ हमेशा मिलजुल कर काम करुंगा।

सीनेट की पुष्टि की प्रक्रिया विवादास्पद और भावुक थी। वह प्रक्रिया खत्म हो गई है।’ उन्होंने कहा, ‘अब मेरा ध्यान सर्वश्रेष्ठ न्यायाधीश बनने पर है। मैं कृतज्ञता से यह पद लेता हूं और मेरे दिल में कोई कड़वाहट नहीं है।’ इस बीच, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पुष्टि की प्रक्रिया के दौरान कावानाह और उनके परिवार को हुए ‘भयानक दुख’ और उन्हें पहुंची ‘पीड़ा’ के लिए सभी देशवासियों की ओर से उनसे माफी मांगी। उन्होंने सोमवार को वाइट हाउस में आयोजित एक समारोह में कहा, ‘हमारे देश की तरफ से मैं ब्रेट और पूरे कावानाह परिवार से उन्हें मिले भयानक दुख और पीड़ा के लिए माफी मांगता हूं।’

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने न्यायाधीश पद के लिए कैवनॉग को नामित किया था। कैवनॉग की जीत को नवंबर में होने वाले मध्यावधि चुनाव में राष्ट्रपति ट्रंप की जीत के तौर पर देखा जा रहा है। मतदान से पहले वॉशिंगटन में सैकड़ों लोगों ने कैवनॉग के खिलाफ प्रदर्शन भी किए थे। कैवनॉग (53) ने सुप्रीम कोर्ट में एक निजी समारोह में शनिवार शाम शपथ ली। मुख्य न्यायाधीश जॉन रॉबर्ट्स ने उन्हें शपथ दिलाई।

बता दें कि अमेरिका की सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में ब्रेट कैवनॉग ने शनिवार को शपथ ले ली है। यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरने के बाद कैवनॉग की नियुक्ति विवादों में घिर गई थी। कैवनॉग पर तीन महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था, जिसका उन्होंने पुरजोर खंडन किया था। आरोपों के बाद एफबीआई ने जांच भी की, लेकिन प्रेजिडेंट ट्रंप लगातार जज कैवनॉग का समर्थन करते रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here