कोरोना की वजह से अयोध्या में रामकोट की यात्रा स्थगित

0
80

यूपी ,प्रीती झा

अयोध्या में भगवान राम को 24 मार्च को टेंट से अस्थाई मंदिर में प्रतिस्थापित किया जाना है…. इसके अगले दिन से रामनवमी की शुरुआत होगी, जिसमें पारंपरिक तौर पर लाखों श्रद्धालु अयोध्या आकर भगवान राम का दर्शन करते हैं… लेकिन कोरोना वायरस की वजह से 24 मार्च को होने वाली रामकोट की परिक्रमा स्थगित कर दी गई है…इसका आयोजन करने वाली विक्रमादित्य महोत्सव समिति ने फैसला लिया है… नवरात्र व नव संवत्सर की पूर्व संध्या पर रामकोट की परिक्रमा होती थी. रामकोट की परिधि में आता है रामलला का गर्भ गृह… रामकोट की परिक्रमा में विक्रमादित्य महोत्सव समिति के अध्यक्ष राजकुमार दास संतो के साथ राम कोट की परिक्रमा करते थे… इसमें कई बड़े लोग भी शामिल होते आये हैं….मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपील की है कि लोग अपने घरों में ही रामनवमी मनाएं… इसके बाद अयोध्या के साधु संत अपने अनुयायियों से अपील करेंगे कि कोरोना को देखते हुए रामनवमी में श्रद्धालु अयोध्या ना आएं… इसके बाद भी अगर रामनवमी पर भीड़ आती है तो प्रशासन बाहर से आने वालों को अयोध्या की सीमा से ही उन्हें लौटा सकता है… सूत्रों ने बताया कि अगर भीड़ ज्यादा होने लगती है तो बाहरी लोगों को सीमा में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा…सुप्रीम कोर्ट के राम मंदिर निर्माण को लेकर आये फैसले के बाद यह पहला रामनवमी के त्योहार है… ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि हर साल की तुलना में इस बार ज्यादा श्रद्धालु अयोध्या आ सकते हैं… कोरोना की वजह से प्रशासन नहीं चाहता कि अयोध्या में लाखों की भीड़ इकट्ठी हो लेकिन किसी को जबरदस्ती करके रोकना भी आम जनमानस के गुस्से की वजह बन सकता है… ऐसे में फिलहाल प्रशासन साधु संतों से आग्रह कर रहा है…कि वो भक्तों से अपील करें की लोग खुद अयोध्या आने की जगह अपने घरों में रामनवमी के त्यौहार मनाएं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here