केरल के लोगों का दर्द जानने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को पहुंचे तिरुवनंतपुरम ।

0
156

पिछले दिनों केरल में 94 साल बाद सबसे भीषण बाढ़ आई थी। राज्य में बारिश से जुड़ी घटनाओं में 8 से 25 अगस्त तक 250 से ज्यादा लोगों की मौत हुई। वहीं, इस मानसून सीजन में अब तक 450 से ज्यादा ने जान गंवाई है। सरकार के मुताबिक, 14 लाख बाढ़ पीड़ित राहत शिविरों में हैं। एर्नाकुलम जिले में बाढ़ से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। यहां 5 लाख से ज्यादा लोग बेघर हो गए। हालांकि, कुछ इलाकों में पानी उतरने के बाद लोग अपने घरों में लौट रहे हैं।इस दौरान राहुल के साथ स्थानीय नेता और एसपीजी के जवान भी मौजूद थे। राहुल ने खुद पहले जाने की बजाए एयर ऐम्बुलेंस को प्राथमिकता दी। अपने चॉपर को उन्होंने बाद में ले जाने के लिए कहा और उन्होंने निजी तौर पर इस बात का निरीक्षण किया कि मेडिकल हेल्प के लिए जा रहे शख्स को पहले भेजा जाए। इसके बाद एयर ऐम्बुलेंस को पहले टेक ऑफ कराया गया और फिर राहुल अपने चॉपर में बैठे।

 कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को बाढ़ के हालात का जायजा लेने दो दिन के दौरे पर केरल पहुंचे। वे चेंगनूर स्थित राहत शिविर में गए और बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात की। यहां एक एयर एंबुलेंस को टेक ऑफ कराने के लिए हवाईपट्टी पर इंतजार भी किया। राहुल ने रे स्क्यूअभियान में मदद करने वाले जवानों, मछुआरों को सम्मानित भी किया। कांग्रेस अध्यक्ष बुधवार को वायनाड जिले में बाढ़प्रविभा तइलाके का दौरा करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here